Wednesday, May 22, 2024

लोकसभा चुनाव में यूपी के इन 2 नेताओं की दांव पर लगी विरासत, बरकरार रखनी है प्रतिष्ठा

Loksabha Chunav 2024: उत्तर प्रदेश में यूपी लोकसभा चुनाव को लेकर काफी जोरों से तैयारी हो रही है। उत्तर प्रदेश के कुछ ऐसे उम्मीदवार हैं जिनको विरासत में मिली राजनीति को बचाना है। इस चुनाव में इन परिवारों की युवा पीढ़ी अपने परिवार की प्रतिष्ठा को फिर से स्थापित करने के लिए काफी प्रयास कर रही है। इन उम्मीदवारों के परिवार कई दशकों से उत्तर प्रदेश की सियासत में सक्रिय है लेकिन कुछ वर्षों से उनकी नैया डूबती हुई नजर आ रही है। हालांकि इस बार उनके लिए अपनी विरासत बचाना किसी चुनौती से कम नहीं है।

इकरा हसन

समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार इकरा हसन कैराना से चुनाव लड़ रही हैं। इकरा हसन के दादा अख्तर हसन, पिता मुनव्वर हसन और मां तबस्सुम हसन कई बार इस सीट से चुनाव जीत चुकी हैं उनके भाई नाहिद हसन विधानसभा सीट से दूसरी बार विधायक बने हैं। इकरा हसन 2022 में चुनावी मैदान में उतरी है। इस बार वह चुनावी मैदान में है और उनका मुकाबला भाजपा उम्मीदवार प्रदीप चौधरी से है। उनके लिए यह सीट जीतना बहुत ही अहम है।

जितिन प्रसाद

यूपी के मंत्री जितिन प्रसाद पीलीभीत सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। जितिन प्रसाद कांग्रेस के पूर्व दिग्गज जीतेन्द्र प्रसाद के बेटे हैं उन्हें अपने पिता की राजनीतिक विरासत को बरकरार रखना है। पीलीभीत गांधी परिवार का गढ़ माना जाता है। जितिन प्रसाद ने 2009 में लखीमपुर खीरी जिले के धौरहरा से चुनाव जीता। उसे निर्वाचन क्षेत्र से 2014 और 2019 के चुनाव में वह हार गए। उसके बाद वह भारतीय जनता पार्टी में 2021 में शामिल हुए। इस समय वह योगी कैबिनेट में मंत्री हैं।

Read More-पहले चरण में ही को खत्म हो जाएगा 11 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में चुनाव, ईवीएम में बंद हो जाएगा इन उम्मीदवारों का भाग्य

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,000,000FansLike
55,600FollowersFollow
500,000SubscribersSubscribe

Latest Articles