Sunday, January 17, 2021

शोएब अख्तर ने की टीम इंडिया के लिए भविष्यवाणी, मिलेगी सबसे बड़ी जीत

दिल्ली। भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज का चैथा टेस्ट मैच शुरू होने से पहले टीम की दावेदारी को लेकर चर्चा प्रारम्भ हो गयी है। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराने पर भारतीय बल्लेबाजों की जमकर तारीफ की है। उन्होंने कहा कि सिडनी में ऑस्ट्रेलिया चैथे दिन तक काफी मजबूत स्थिति में था और मैच जीतने के लिए फेवरेट था। मैच के पांचवें और आखिरी दिन भारतीय बल्लेबाजों ने संघर्ष और जीवटता का बेहतरीन उदाहरण देते हुए ऑस्ट्रेलिया के हाथों से जीत छीन ली। भारतीय टीम ने पांचवे दिन षानदार बल्लेबाजी की। भारत को इस मैच में 407 रनों का लक्ष्य मिला था जिसके जवाब में टीम इंडिया ने 131 ओवर बैटिंग करके 334-5 का स्कोर बनाया। इस मैच को ड्रॉ कराने में कई खिलाड़ियों का योगदान रहा। इसमें विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी और आर अश्विन का नाम शामिल है। भारतीय बल्लेबाजी ने ऑस्ट्रेलिया को जीत से वंचित कर दिया। टेस्ट क्रिकेट के बेहतरीन मैचों में से एक साबित हुए सिडनी टेस्ट के ड्रॉ रहने पर अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि भारतीय टीम इस वक्त अपने कई स्टार खिलाड़ियों की चोटों से जूझ रही है। इसके बावजूद टीम इंडिया जिस स्वभाव को दर्शा रही है, वह ब्रिसबेन में मेजबान ऑस्ट्रेलिया टीम को पीट देगी। ऑस्ट्रेलिया के लिए भारतीय टीम खतरे की घंटी है।

यह भी पढेंः-Ind vs Aus: होटल में कैद टीम इंडिया, बिस्तर से लेकर टॉयलेट खिलाड़ी कर रहे हैं साफ!

अख्तर ने कहा कि अगर टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया को हराने में सफल हो जाती है तो यह निश्चित तौर पर टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी जीत होगी। खिलाड़ियों के लगातार चोटिल होने पर रावलपिंडी एक्सप्रेस बोले कि टीम इंडिया की बेंच स्ट्रेंथ को यह समझना होगा कि वो इस स्थिति में अपनी टीम को जिता सकते हैं। उन्हें इस समय एक आखिरी प्रयास करना है जिससे वो एक ऐतिहासिक सीरीज जीत के गवाह बन सकते हैं। भारत सीरीज और मैच दोनों को विजेता बन जाएगा। इस मैच में भारत ने पांचवें दिन के खेल की शुरुआत 98-2 के स्कोर से की थी। उस समय क्रीज पर टीम इंडिया के दो अनुभवी खिलाड़ी कप्तान अजिंक्य रहाणे और भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा मौजूद थे। टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और टीम इंडिया को दिन का पहला झटका मात्र दिन के दूसरे ओवर में ही लग गया।

जब कप्तान रहाणे नाथन लायन की गेंद पर सिली प्वॉइंट पर खड़े मैथ्यू वेड को कैच थमा बैठे। इसके बाद बल्लेबाजी में प्रमोट किए गए ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के सिर पर पसीने ला दिए और 118 गेंदों पर 97 रनों की आकर्षक पारी खेली। टीम एक समय चेतेश्वर पुजारा और पंत के आउट होने के बाद संकट में दिख रही थी। हनुमा विहारी और आर अश्विन ने यादगार संघर्ष करते हुए लगभग 42 ओवरों तक बल्लेबाजी की और मैच का ड्रॉ कराया। दोनों की बल्लेबाजी की तारीफ हो रही है। दोनों खिलाड़ी चोटिल होने के बावजूद भी खेल रहे थे। भारतीय टीम गाबा में जीतती है तो एक रिकाॅड बनेगा।

यह भी पढेंः-मसला यह भी है दुनिया का…कि कोई अच्छा है तो अच्छा क्यों है…

Stay Connected

1,097,080FansLike
10,000FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles