हॉस्पिटल में तंत्र पूजा, मृतक की आत्मा लेने आए लोग

0
506
tantra_mantra new

विकास के इस दौर में आज भी इंसान अंधविश्वास के जाल में फंसा हुआ है। राजस्थान में अजमेर के जेएलएन हॉस्पिटल में एक शख्स की मौत हो गई थी। लेकिन गांव वालों के साथ परिवार वाले ने अस्पताल में तंत्र विद्या का इस्तेमाल किया। ताकि मृतक की आत्मा वापस लाई जा सके। इस दौरान अस्पताल में किसी ने भी इन लोगों को तंत्र करने से नहीं रोका।

बता दे एक्सीडेंट के बाद युवक को इलाज के लिए जेएलएन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन इस दौरान उसकी मौत हो गई। मौत के कई दिन बाद गांव वालों के साथ उसके घर वाले मृतक की आत्मा वापस लेने के लिए अस्पताल पहुंच गए। मृतक के घर वालों ने जेएलएन हॉस्पिटल में तांत्रिक के साथ मिलकर पूजा की। मामला 9 मार्च का है जब परिवार वालों का कहना था कि वे अपने बेटे की आत्मा को वापस लेने के लिए आए हैं।

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक बरोडा गांव के लोगों ने हॉस्पिटल के पुरुष वार्ड के पास हवन भी किया। इस दौरान न तो वार्ड बॉय ने और न ही सिक्योरिटी गार्ड ने ही इन लोगों को रोका। इस दौरान अस्पताल में भर्ती दूसरे मरीजों ने भी किसी तरह का विरोध नहीं किया।

मृतक का परिवार किस कदर अंधविश्वास में फंसा हुआ है इसकी बानगी देकने को ली जब मृतक के एक परिजन ने कहा कि अंतिम संस्कार के लिए वो युवक की बॉडी ले गए थे, लेकिन आत्मा हॉस्पिटल में ही रह गई। अब हम उसे लेने आए हैं। आत्मा को घर के एक कोने में रखेंगे। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान वार्ड के लोग डरे रहे।  वही हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने भी इस मामले में हस्तक्षेप नहीं किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here