क्या इजरायली दूतावास में IED Blast का कारण है ईरान? अमित शाह ने बंगाल दौरा रोक, लगाई बैठक

इजरायली

 नई दिल्ली: दिल्ली में इजरायली दूतावास(Israeli Embassy) के बाहर शुक्रवार शाम हुए आईईडी ब्लास्ट(IED Blast)  हुआ है. खबरों के अनुसार ब्लास्ट की जगह पर से एक पैकेट प्राप्त  हुआ है, जिस पर इजरायली दूतावास का पता लिखा हुआ है. ऐसे कयास लगाए जा रहे है कि इस ब्लास्ट के पीछे ईरान का हाथ है, पर इस बात को पुख्ता अभी नहीं किया जा सकता है. इस विषय में सूत्रों ने ज्यादा जानकारी भी नहीं दी. उन्होंने कहा कि विस्फोट स्थल से एक पैकेट बरामद हुआ है.  दिल्ली पुलिस के अलावा जनसंपर्क अधिकारी अनिल मित्तल(Anil Mittal) ने कहा कि अति-सुरक्षित इलाके में हुए धमाके में कुछ कारें क्षतिग्रस्त हुई हैं और प्रारंभिक जांच में प्रतीत हुआ है कि किसी ने सनसनी पैदा करने के लिये यह शरारत की.

इसे भी पढ़ेः-मात्र एक जीत से धोनी का सुनहरा रिकाॅर्ड यह कप्तान कर लेगा अपने नाम

अमित शाह ने की मीटिंग

Amit-Shah-3दिल्ली में हुए इस हमले के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी काफी सक्रिय हो गए हैं और उन्होंने आला अधिकारियों के साथ मीटिंग की. अमित शाह के साथ हुई इस बैठक में सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों के आला अधिकारी मौजूद रहे. दिल्ली पुलिस को इस मामले में जल्द अपनी तफ्तीश पूरा करने के निर्देश मिले है. इसके साथ ही खुफिया एजेंसियों को हर संभव मदद दिल्ली पुलिस को मुहैया करवाने का आदेश भी दिया गया. किसान आंदोलन, दिल्ली हिंसा और इजरायल दूतावास के पास हुए बम विस्फोट की घटना से के कारण बने माहौल का अनुभव करते हुए  गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल का दौरा भी आज रोक दिया है. दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव ने घटी हुई घटना की जगह का दौरा करके वहां के  हालातों का पता लगाया.

इस दौरान हुआ हमला

इजरायली2दिल्ली में इजरायली दूतावास के बाहर शुक्रवार की शाम को जब ये आईईडी विस्फोट हुआ, तब इस धमाके से कुछ दूर किलोमीटर दूर गणतंत्र दिवस समारोहों के सपमान के तौर पर होने वाला ‘बीटिंग रीट्रिट’ कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे. विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने भी अपने इजराइली समकक्ष गाबी अशकेनजी से बात की और उन्हें राजनयिकों एवं दूतावास को पूरी सुरक्षा देने का विश्वास दिलाया. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इस मामले में भारत पर पूरा भरोसा जताया है. इजरायल के पीएम बेंजामिन का कहना है कि पूरा भरोसा है भारत उनके अधिकारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा.

कोई जख्मी नहीं

इजरायलीइजरायली दूतावास के पास हुए ब्‍लास्‍ट में अभी तक फिलहाल किसी शख्‍स के चोट लगने या कोई नुकसान होने की कोई खूबर नहीं मिली है. इजराइल दूतावास तुगलक रोड थाने से कुछ दूरी पर स्थित है. आपकों बता दें कि इजरायली दूतावास के पास कई साल पहले भी चलती कार के नीचे किसी बाइक सवार ने बम फेंक कर हमला किया था. पुलिस ने बताया कि यह धमाका इजराइल एंबेसी में नहीं हुआ है. अधिकारी प्रेम लाल ने बताया कि हमें करीब 5:45 के करीब ब्‍लास्‍ट की सूचना मिली थी, इसके बाद हम तुरंत उस घटना स्‍थल की तरफ भागे थे. इस पूरे घटनाक्रम में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. मौके पर खुफिया विभाग के अधिकारी, स्पेशल सेल और क्राइम ब्रांच के अधिकारी जांच कर रहे हैं. इलाके को सुरक्षा को देखते हुए सील कर दिया गया है।

2012 फरवरी में भी हुआ था ऐसा विस्फोट

Israelआज से पहले साल 2012 फरवरी में भी इजरायली दूतावास की एक कार को उस समय के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के आवास के पास विस्फोट करके उड़ा दिया गया था. उस समय यह बात कही गई थी कि जब ये कार सिग्नल पर खड़ी थी तो एक बाइक सवाल हमलावार ने कार पर विस्फोटक चिपका दिया था.  बाइक सवार के वहां से निकलने के कुछ सेकेंड बाद ही कार में विस्फोट हो गया, जिसके कारण कार में सवार एक इजरायली राजनयिक की पत्नी येहोशुआ कोरेन गम्भीर रूप से घायल हो गईं थी। राजनयिक कार का नम्बर 109 सीडी 35 था और वह बुरी तरह से हानि हो गई थी.

इसे भी पढ़ेः-अब Indira Gandhi का किरदार अदा करेंगी Kangana Ranaut, ट्वीट कर खुद दी फिल्म की जानकारी