Sunday, April 14, 2024

सभी को उदास करके चले गए पंकज उधास, बेहद संघर्षों के बाद मिली थी असली पहचान

Pankaj Udhas Death: बॉलीवुड के दिग्गज गजल गायक पंकज उधास ने दुनिया को अलविदा कह दिया है। इस बात की जानकारी पंकज उधास की बेटी नायाब ने दी है। पंकज उधास ने अपना पहला गाना ‘ए मेरे वतन के लोगों’ गाया था। पंकज उदास के निधन की खबर सुनते ही उनके फैंस सदमे में हैं। पंकज उधास की जिंदगी बहुत ही संघर्ष से भरी थी। पंकज उधास ने इतनी बड़ी सफलता पाने के लिए बहुत ही बड़ी मेहनत की है।

भारत चीन युद्ध के दौरान गया था पहला गाना

पंकज उधास ने भारत चीन युद्ध के दौरान ‘ए मेरे वतन के लोगों’ पहला गाना गया था। इस दौरान उनको इनाम के तौर पर 51 रुपए मिले थे। फिर स्कूल की प्रार्थना सभा में भी पंकज गया करते थे और जब कॉलेज पहुंचे तो उन्होंने तबला बजाना शुरू कर दिया। 21 साल की उम्र में पंकज को फिल्ममेकर उषा खन्ना ने अपनी फिल्म कामना में गाना गाने का मौका दिया था। इस फिल्म में पंकज ने “तुम कभी सामने आ जाओगे तो” गाना गया था यह बहुत ही हिट हुआ था। लेकिन उन्हें अभी तक असली पहचान नहीं मिली थी फिर पंकज को 1986 में फिल्म ‘नाम’ में ‘चिट्ठी आई है’ गाना गाने से मिली थी।

अपने करियर में गई है कई सारी गजलें

उनकी आवाज में हर किसी को दीवाना बना लिया था। अपने सालों के करियर में पंकज ने ‘फिर तेरी कहानी याद आई’, ‘चले तो कट ही जाएगा’ जैसे गजलें गई थी। पंकज उधास ने अपने करियर में काफी नाम कमाया था पंकज उधास के आज चले जाने से उनके फैंस काफी दुखी हैं।

Read More-‘भारत को अगला धोनी मिल गया…’ ध्रुव जुरैल के प्रदर्शन से प्रभावित हुए सुनील गावस्कर

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles