Tuesday, April 23, 2024

चरित्रहीन महिलाओं की ऐसे होती है पहचान, तुरंत बना ले दूरी

Aacharya Chanakya: आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति शास्त्र में वैवाहिक जीवन से जुड़ी कई सारी बातों का जिक्र किया है। चाणक्य की नीतियों का पालन सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में किया जाता है। आचार्य चाणक्य द्वारा लिखी गई है नीतियां आज भी उतनी ही प्रशंसक हैं जितनी तब लिखी गई थी। आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति शास्त्र में चरित्रहीन महिलाओं के बारे में जानकारी दी है। चाणक्य ने बताया है कि कैसे चरित्रहीन महिलाओं की पहचान आप कर सकते हैं उनके अंदर कौन सी खूबी होती है।

चरित्रहीन महिलाओं की पहचान

-आचार्य चाणक्य के अनुसार छोटी गर्दन वाली महिलाएं हमेशा फैसलों के लिए दूसरे पर निर्भर रहती हैं। इसके अलावा जिन स्त्रियों की गर्दन लंबाई 4 अंकों से अधिक होती है उनकी संतान नष्ट हो जाती है। चपटे गर्दन वाली महिलाओं का स्वभाव बहुत ही गुस्सैल प्रवृत्ति का होता है।

-जिन महिलाओं की आंखें पीली और डरावनी होती है ऐसी महिलाओं का स्वभाव बहुत ही खराब होता है वह चरित्र हीनता वाली महिलाएं कहलाती हैं।

-जिन महिलाओं के कानों पर बहुत बाल होते हैं और उनका आकार असमान होता है। उनकी वजह से हमेशा घर में क्लेश उत्पन्न होता लड़ाई झगड़े होते हैं। ऐसी महिलाओं के जीवन में कभी भी सुख नहीं आता हमेशा दुखों के बादल छाए रहते हैं।

Read More-Puja Ghar Tips: स्नान करने के बाद फटाफट पूजा घर से इन चीजों को हटा दें, गरीबी आते नहीं लगेगी देर

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles