Categories
उत्तर प्रदेश

धरना स्थल पर योगी के राज्यमंत्री हुए नाराज, कहा- मुझे वोट मत देना…

आगरा। विधानसभा चुनाव से पहले सियासी बयानबाजी तेज हो गयी है। धरना-प्रदर्शन के बीच अपने को आगे कर दिखाना नेताओं की जरूरत बन गयी है। आगरा झांसी रेलवे लाइन पर रास्ते की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी रहा। धरने के तीसरे दिन क्षेत्रीय जनता से बात करने के लिए छावनी विधायक व राज्यमंत्री डॉ. जीएस धर्मेश भी पहुंचे। जीएस धर्मेश ने लोगों को समझाने की कोशिश की। उनके समझाने के दौरान लोग और नाराज हो गये। धरने पर बैठे लोगों ने उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई। इस दौरान विधायक भी धरने पर बैठे लोगों से नाराज हो गये। नाराज राज्यमंत्री ने वहां लोगों से दो टूक कह दिया कि मुझे वोट मत देना। धरना स्थल पर मंत्री की इस नाराजगी को लेकर काफी आक्रोश है।

GS dhrmesh

आगरा जगनेर रोड के नगला पुलिया शिवनगर नारीपुरा वाल्मीकि बस्ती सहित दर्जनभर मोहल्ले के लोग आगरा कैंट रेलवे स्टेशन के नजदीक केबिन के पास धरना कर रहे हैं। धरने के तीसरे दिन क्षेत्रीय विधायक और प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री डॉक्टर जीएस धर्मेश आंदोलित क्षेत्रीय लोगों से मुलाकात उल्टी पड़ गयी। राज्यमंत्री की अपील से लोग और नाराज हो गये। विकास नहीं कराने से आक्रोशित क्षेत्रीय जनता ने विधायक को खरी-खोटी सुनानी शुरू कर दी। महिला और पुरुषों ने खुले मंच से विधायक को दो टूक शब्दों में जवाब दिया कि काम नहीं तो वोट नहीं। विधायक लोगों की बातें सुनकर काफी नाराज हो गये।

तिलमिलाए विधायक ने खोया आपा

क्षेत्रीय जनता के दो टूक जवाब से क्षेत्रीय विधायक बुरी तरह से तिलमिला गये। इस पर विधायक भी जनता को वोट नहीं देने की धमकी दे डाली। धरना दे रहे लोगों के प्रति त्योरियां चढ़ाने के बाद मंत्री धरना स्थल से उठ कर चले गये।

विधायक के व्यवहार से जनता में आक्रोश

विधायक के व्यवहार ने आंदोलित क्षेत्रीय लोगों का आंदोलन और उग्र हो गया। इस व्यवहार के विरोध में अब उन्होंने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करने का ऐलान कर दिया है। धरना दे रहे लोगों में प्रमुख रूप से जयराम कुशवाहा, अजय गोस्वामी, बॉबी भाई सुनील चक, डॉक्टर संजीव चैहान, मधु प्रजापति, राकेश वाल्मीकि, चांद अल्वी सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

यह भी पढ़ेंः-योगी सरकार का बड़ा फैसला, अब महापुरुषों की जयंती और शिवरात्रि पर नहीं होगी मांस की बिक्री