योगी के मंत्री ने मुसलमानों को दी बाबरी मस्जिद का नाम बदले की नसीहत, सुझाव में दिया ये नाम

261
mohsin

अयोध्या में राम मंदिर भूमि निर्माण के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम सपंन्न हो चुका है। जिसके बाद अब जल्द ही राम नगरी में मंदिर निर्माण का कार्य भी शुरू हो जाएगा। लेकिन इस बीच भी राम मदिर और बाबरी मस्जिद पर बयानबाजी खत्म नहीं हुई। एक तरफ मुस्लिम नेता राम मंदिर के निर्माण से खुश नहीं है। तो वहीं, दूसरी तरफ अब यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक मंत्री ने अब मुस्लिम नेताओं को नसीहत देने का काम किया है दरअसल योगी सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मोहसिन रजा ने सेंट्रल सुन्नी वक्फ बोर्ड को सुझाव दिया है। इस दौरान मोहसिन रजा ने बाबरी मस्जिद का नाम बदले की सलाह दी है।

मोहसीन रजा ने सुन्नी वक्फ बोर्ड को सुझाव दिया है कि अगर बोर्ड अयोध्या में बन रही मस्जिद का नाम रखना चाहते है तो उन्हें मोहम्मद साहब के नाम पर मस्जिद बनानी चाहिए। मस्जिद का नाम “मस्जिद ए मोहम्मदी” होना चाहिए। मोहसिन रजा ने कहा कि इस देश में बाबर के नाम पर कोई भी चीज स्वीकार नहीं होगी। वह मस्जिद हो या फिर कुछ और। क्योंकि बाबर ने कभी भी कोई भी काम अच्छा नहीं किया। बाबर के मुद्दे पर कभी मुसलमान भी एक पक्ष में नहीं होता। इसलिए इसे हम भी स्वीकार नहीं करेंगे। इसके आगे सीएम योगी के मंत्री ने कहा कि जैसे हिंदुओं में मर्यादा पुरुषोत्तम राम है। उसी तरह मुसलमानों में पैगंबर मोहम्मद एक महापुरुष है।

मोहसिन रजा ने कहा कि जितना सम्मान राम को हिंदुओं में मिला है। उतना ही सम्मान पैगंबर को भी हिंदुओं में मिला है। इसलिए मस्जिद का नाम बदलकर ‘मस्जिद ए मोहम्मदी’ रखा जाए। वहीं, मस्जिद के कार्यक्रम में सीएम योगी के शामिल होने के सवाल पर मोहसिन रजा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें मस्जिद बनाने की अनुमति दी है और अब वहां मस्जिद बनेगी। किसी भी अच्छे काम के लिए अगर बुलाया जाएगा। तो बीजेपी का बड़े से बड़ा नेता कार्यक्रम में शामिल होगा।

ये भी पढ़ें:-अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए दान में आया एक क्विंटल सोना-चांदी, जानें किसने दिया