Categories
उत्तर प्रदेश

YOGI का अयोध्या से करारा जवाब, प्रभु श्रीराम ने न तो कभी अन्याय किए और न ही अन्याय सहे…

अयोध्या। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अयोध्या में महर्षि वेद विज्ञान विद्यापीठ के कार्यक्रम में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्रीराम के अस्तित्व पर सवाल उठाने वाले लोगों को करारा जवाब दिया। योगी ने कहा कि प्रभु श्रीराम ने न कभी अन्याय किए और न अन्याय सहे, अर्थात हम अधर्म नहीं करेंगे और अधर्म नहीं सहेंगे। अयोध्या सूर्यवंश की राजधानी है। उन्होंने कहा कि अयोध्या जी में मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम ने सम्पूर्ण मानवता के लिए एक अप्रतिम आदर्श स्थापित किया। यह आदर्श उनके व्यक्तित्व से पूरा होता है। कौन ऐसा भारतीय होगा, जो अयोध्या पर गौरव की अनुभूति न करता हो? प्रभु श्रीराम और धर्म अलग-अलग नहीं हो सकते, यह एक दूसरे के पूरक हैं। प्रभु श्रीराम हैं तो धर्म है और धर्म जहां रहेगा वहां प्रभु श्रीराम होंगे ही होंगे। सीएम योगी ने आगे कहा कि तत्कालीन सरकारें सेक्युलर होने का दिखावा कर रही थीं। भारत और भारतीयता से मुंह मोड़ने का प्रयास कर रही थीं।तब महर्षि महेश योगी ने विश्व के समक्ष भारत की बात को पूरी दृढ़ता से रखने का साहस किया। उनका कार्य उस कालखंड के लिए अद्भुत था और वर्तमान के लिए अभिनंदनीय है। दुनिया उनको नमन करती है।

वेदों का दुष्प्रचार किया गया

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वेदों के बारे में दुनिया में दुष्प्रचार किया गया। गलत तरीके से तथ्य प्रस्तुत किए गये। इन सबके बावजूद वैश्विक मंचों पर महर्षि महेश योगी ने बेधड़क भारत और भारतीयता, वेदों की शिक्षा, रामायण के प्रसंगों तथा महाभारत के उद्धरणों को मजबूती के साथ प्रस्तुत किया। उन्हांेने भारतीयता से दुनिया को अवगत कराया।

राष्ट्र को कमजोर करने वाली कड़ियों की मरम्मत हो

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धर्म के परिमार्जन की परंपरा हर कालखंड में चलनी चाहिए। समाज को कमजोर करने वाली उन सभी कड़ियों की हमेशा मरम्मत की जानी चाहिए, जिनके कारण राष्ट्र कमजोर होता है। मरम्मत, संशोधन से ही नये जीवन की कल्पना पूरी होती है।

अयोध्या अत्याचार बर्दाश्त नहीं करती

सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या ने 500 साल तक लंबा संघर्ष देखा है। समय≤ पर हमले होते रहे लेकिन अयोध्या कभी चुप नहीं बैठी। हम लोग अन्याय व अत्याचार बर्दाश्त नहीं करते, यही अयोध्या है।

यह भी पढ़ेंः-सीएम योगी के कंधे पर पीएम मोदी का हाथ, इस तस्वीर ने दिया भविष्य की सियासत का संदेश