lakhimpur women

लखनऊ। उत्तर प्रदेश ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हिंसा पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई से शुरूआत कर दी है। लखीमपुर खीरी में महिला प्रस्तावक के साथ बदसलूकी, कपड़े खींचे जाने का मामला आया है। इस मामले में राज्य सरकार ने कार्रवाई का आदेश दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने क्षेत्राधिकारी और थाना प्रभारी को सस्पेंड करने का निर्देश दिया है। पुलिस का दावा है कि महिला से बदसलूकी और साड़ी खींचने वाला युवक निर्दलीय प्रत्याशी का समर्थक है। स्थानीय पुलिस गहनता से जांच पड़ताल कर रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। आरोपियों का वीडियो वायरल हो गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटनास्थल पर तैनात जिम्मेदार अधिकारियों और माहौल बिगाड़ने वाले लोगों के खिलाफ तत्काल कठोरतम कार्रवाई का आदेश दिया है। इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार का कहना है कि किसी भी स्थिति में माहौल खराब करने की एक भी कोशिश स्वीकार नहीं की जाएगी। आरोपियों पर सख्त कार्रवाई होगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पुलिस बल अतिरिक्त सतर्कता और संवेदनशीलता के साथ मुस्तैद रहे। उन्होंने कहा कि असलहा आदि का प्रदर्शन करने वालों के हथियार जब्त कर त्वरित कार्रवाई की जाये। लखीमपुर मामले में सीओ और एसओ को मुख्यमंत्री ने सस्पेंड किया। मौके पर मौजूद लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिया गया है।

लखीमपुर में महिला से बदसलूकी
ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान गुरूवार को कई जिलों में हिंसा हुई है। ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान लखीमपुर खीरी में महिला प्रस्तावक के कपड़े फाड़े गए। पसगवां ब्लॉक की सपा प्रत्याशी रितु सिंह ने आरोप लगाया कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनकी महिला प्रस्तावक के साथ बदसलूकी की और उनके कपड़े तक फाड़ दिये। महिला प्रस्तावक से बदसलूकी का वीडिया वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़ेंः-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बनेगी फिल्म, लीड रोल में होगा ये दिग्गज एक्टर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here