योगी सरकार की अनूठी पहल, गाय पालने वालों को हर महीने दिए जाएंगे इतने रुपए

198

देश में कोरोना संकट के बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में कुपोषण की दर कम करने को लेकर एक नई पहल की शुरूआत की है। सीएम योगी की इस अनूठी पहल से राज्य में कुपोषित तो कम होगा ही इसके साथ ही पशुपालन पर भी जोर दिए गया है। दरअसल हाल ही में सीएम योगी ने टीम 11 की बैठक में फैसला लिया है, कि जो महिलाएं और बच्चे कुपोषण के शिकार हैं, उनके घर में गाय उपलब्ध कराई जाएगी। इतना ही नहीं गाय का पूरा खर्च भी योगी सरकार उठाएगी। बताया जा रहा है कि प्रदेश सरकार गाय पालने वालों को हर महीने 900 रुपए मुहैया कराएगी जो कुपोषित कम करने में एक कारगर कदम साबित होगा। हालांकि यह सुविधा उन लोगों को प्राप्त होगी जो गाय पालने में इच्छुक हों। उनके पास गाय रखने के लिए पर्याप्त जगह मौजूद हो। इन सबको ध्यान में रखकर ही सरकार हर महीने आपको 900 रुपए देगी।

ये भी पढ़ें:-UP में खत्म हुआ वीकेंड लॉकडाउन, योगी सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

बता दें कि राज्य में कुपोषण कम करने को लेकर योगी सरकार द्वारा सात सितंबर से ‘पोषण माह’ भी चलाया जा रहा है।इस एक महीने में प्रदेश में अलग-अलग स्तर पर कुपोषित परिवारों पर ध्यान देने, पोषण आहार को लेकर जागरुकता फैलाने और कुपोषित परिवारों को ज़रूरी रिसोर्स उपलब्ध कराने पर ध्यान दिया जाएगा।

सीएम ने छह महीने में कुपोषण की दर को एक फीसदी नीचे लाने का लक्ष्य रखा है। इसके साथ ही मार्च-2021 तक ये भी देखा जाएगा कि कौन सा जिला कुपोषण को कम करने में कैसा काम कर रहा है. इसके आधार पर जो जिला सबसे अच्छा काम करेगा, उसे पुरस्कार भी दिया जाएगा. ‘न्यूट्रीशन ड्राइव’ का अलग-अलग स्तर पर लगातार रिव्यू किया जाएगा।

कहा जा रहा है कि जिला स्तर पर हफ्ते-दर-हफ्ते रिव्यू किया जाएगा. मुख्य सचिव स्तर पर महीने-दर-महीने रिव्यू किया जाएगा. वहीं सीएम हर दो-दो महीने में रिव्यू करेंगे कि कुपोषण दूर करने का काम कैसा चल रहा। गाय पालने को बढ़ावा दिए जाने पर सरकार कुपोषण से जूझ रहे परिवारों को किचन गार्डन बनाने के लिए भी प्रोत्साहित करेगी, ताकि उनको और उनके परिवार को पोषण वाले खाद्य पदार्थ मिल सकें।

ये भी पढ़ें:-भू-माफिया अतीक अहमद के भवनों पर चला योगी सरकार का बुलडोजर, डी-227 गैंग का है गैंगस्टर