Categories
उत्तर प्रदेश

सपा-रालोद रैली में महिलाओं-लड़कियों से हुई छेड़खानी, अराजकतत्वों ने बनाया निशाना

मेरठ। विधानसभा चुनाव से पहले राजनीति की तपिश बढ़ती ही जा रही है। लगातार राजनीतिक दलों की रैलियां हो रही हैं। इन रैलियों में शामिल होने वाले बड़े नेता तो कुछ देर बाद वहां से चले जाते हैं लेकिन कई बार आम लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसी ही परेशानी मेरठ में सपा-रालोद की गठबंधन रैली में हुई। मेरठ में मंगलवार को हुई इस रैली में अखिलेश-जयंत ने जनसभा को संबोधित किया और हेलिकॉप्टर से चले गये। रैली खत्म होने के बाद महिलाओं को अराजक तत्वों का सामना करना पड़ा। महिलाओं को छेड़खानी का सामना करना पड़ा।

 samajwadi meerut

लात से मार रहे थे अराजक तत्व

रैली के बाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें महिलाएं आपबीती बता रही हैं। महिलाओं का कहना है कि उनके साथ भीड़ में छेड़खानी हुई है। अराजकतत्व उनके फोन तक छीनकर भागने की कोशिश कर रहे थे। एक लड़की ने बताया कि अराजक तत्व छेड़ते हुए लात मार कर गये। औरतों से धक्का-मुक्की भी हुई। एक लड़की को ऐसे धक्का मारा कि वो गिर गई। महिलाओं के अनुसार जो अराजक तत्व रैली में पहुंच थे, वो दरिंदे थे।

भीड़ हो गयी बेकाबू, पत्रकार हुए परेशान

ज्ञात हो कि अखिलेश जयंत के आते ही भीड़ बेकाबू हो गई। भीड़ इस ज्यादा बेकाबू हुई कि मीडिया का मंच धराशायी हो गया था। मंच के धराशायी होते ही कई पत्रकारों को गंभीर चोटें आई हैं। कई के कैमरे और मोबाइल टूट गये। कई पत्रकार सीधा रैलीस्थल से अस्पताल तक पहुंचे हैं। पत्रकारों ने बताया कि भीड़ इस कदर बेकाबू हो रही थी कि जाने क्या हो जाएगा। एक कैमरामैन ने बताया कि एकदम कार्यकर्ता जुनूनी हो गये। भगदड़ जैसी मच गई और कई पत्रकार घायल हो गये। उत्तेजित कार्यकर्ता डी के आगे की बैरिकैंडिंग तोड़कर दाखिल हो गये। एक शख्स तो उस मंच तक पहुंच गया जहां अखिलेश जयंत मौजूद थे। ये शख्स मंच पर लगे कपड़े को पकड़कर डांस करने लगा। कुछ देर के लिए अखिलेश जयंत भी बेकाबू भीड़ के इस कृत्य को लेकर असहज हो गये। स्थिति इतना ज्यादा खराब हो गयी कि कार्यकर्ताओं को रोकना मुश्किल हो गया था।

यह भी पढ़ेंः-अखिलेश ने कहा BJP का डूब जाएगा सूरज तो जयंत ने कहा ‘बाबा जी’ को फ्री कर देंगे