क्या टिकट कटने का बदला लेंगी स्वाती सिंह, ऐसे जवाब देने की तैयारी में है सपा

0
969
Swati singh
  • अपर्णा यादव के बीजेपी में जाने की स्वाती से भरपाई करेगी सपा

लखनऊ। स्वाती सिंह को भारतीय जनता पार्टी ने लखनऊ की सरोजनी नगर विधानसभा सीट से टिकट नहीं दिया है। अब स्वाती सिंह के सपा में जाने के कयास तेज हो गये हैं। माना जा रहा है कि समाजवादी पार्टी अपर्णा यादव के भारतीय जनता पार्टी में जाने की भरपाई स्वाति सिंह को अपनी तरफ लेकर करेगी। सपा ने भी ऐसे इशारे दिए हैं जिससे लगता है कि उसके दरवाजे स्वाती सिंह के लिए खुले हैं। समाजवादी पार्टी ने भी लखनऊ के सभी सीटों पर अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है लेकिन सरोजनी नगर को अभी तक खाली रखा है। सरोजनीनगर सीट का प्रत्याशी घोषित नहीं होने से भारतीय जनता पार्टी के लिए सपा ने तनाव बढ़ा दिया है।

Swati singh bij

बीजेपी ने राजेश्वर सिंह को बनाया है सरोजनीनगर से उम्मीदवार

पति-पत्नी की लड़ाई में ईडी के पूर्व जॉइंट डायरेक्टर राजेश्वर सिंह ने बाजी मार ली है। रविवार को वीआरएस स्वीकृत होने के बाद सोमवार को राजेश्वर सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। बीजेपी ने लखनऊ की सरोजनी नगर सीट से उम्मीदवार बना दिया है। बीजेपी के इस फैसले से स्वाती सिंह काफी नाराज बताई जा रही हैं। दयाशंकर सिंह ने कहा है कि वह राजेश्वर सिंह को जिताने के लिए काम करेंगे।

स्वाती सिंह का टिकट कटने के बाद जहां उनके सरकारी आवास के बाहर सन्नाटा पसरा था। वहीं दयाशंकर सिंह के घर पर उनके समर्थकों का जश्न जैसा माहौल था। स्वाती सिंह ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है लेकिन जिस तरीके से सरोजनी नगर की सीट सपा ने रोक कर रखी है यह बीजेपी को परेशान करने के लिए काफी है।
स्वाती सिंह के टिकट को लेकर चर्चा काफी समय से चल रही थी। चर्चा समाजवादी पार्टी से अंदरूनी बातचीत की भी थी लेकिन टिकट के आधिकारिक ऐलान का इंतजार था। अब सियासी गलियारे में नजरें इस बात पर टिकी है कि स्वाति सिंह का अगला कदम क्या होगा।

लखनऊ की सरोजनी नगर सीट पर पति दयाशंकर सिंह और पत्नी स्वाति सिंह की दावेदारी आने भारतीय जनता पार्टी असहज स्थिति में थी। भाजपा ने राजेश्वर सिंह को टिकट देने का फैसला किया है। बीजेपी ने लखनऊ की सरोजनी नगर सीट से राजेश्वर सिंह को उम्मीदवार बना दिया। राजेश्वर सिंह को टिकट मिलने पर दयाशंकर सिंह से प्रतिक्रिया मांगी तो वे बेहद खुश नजर आए। उन्होंने कहा कि वे राजेश्वर सिंह को जिताने के लिए पूरी ताकत लगाएंगे। दयाशंकर सिंह ने कहा कि राजेश्वर सिंह भी बलिया से हैं और वह भी वहीं से आते हैं। इसलिए दोनों के बीच पारिवारिक संबंध भी हैं।

 पत्नी स्वाती का टिकट कटने से खुश हुए दयाशंकर

दयाशंकर सिंह ने कहा कि ऐसी बात नहीं है कि पति-पत्नी के झगड़े के कारण राजेश्वर सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है। उन्होंने कहा कि पार्टी जिसे समझती है कि वह चुनाव में जीत दिला सकता है, उसे ही टिकट दिया जाता है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने हमारे लिए भी कुछ अच्छा ही सोचा होगा। टिकट कटने के सवाल पर दयाशंकर ने कहा कि कई परिवारों के टिकट कटे हैं। इसमें तकलीफ जैसी कोई बात नहीं है।

ये भी पढ़ेंः-मंत्री स्वाती सिंह का टिकट कटा, सरोजनीनगर से राजेश्वर सिंह मैदान में, देखें पूरी सूची