Categories
उत्तर प्रदेश लखनऊ

उत्तर प्रदेश कोरोना प्रभावित राज्य घोषित, अब सख्ती से लागू होंगे ये गाइडलाइन्स

लखनऊ। जनवरी के अंत और फरवरी में कोरोना की संभावित तीसरी लहर की आशंका बढ़ती जा रही है। इस बीच उत्तर प्रदेश में एक बार फिर कोरोना अपना पैर पसार रहा है। पिछले 24 घंटे में 80 नए संक्रमित मिले हैं। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 392 हो गई है। उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी को कोरोना प्रभावित राज्य घोषित कर दिया है। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि यूपी लोक स्वास्थ्य एवं महामारी रोग नियंत्रण अधिनियम 2020 की धारा 3 के तहत राज्यपाल ने इस बाबत पत्र जारी कर दिया है। यह घोषणा 31 मार्च तक लागू रहेगी। ज्ञात हो कि इससे पहले मार्च 2019 में प्रदेश को कोरोना प्रभावित राज्य घोषित किया गया था। सरकार एक दो दिन में इसके लिए दिशा निर्देश भी जारी कर देगी। महामारी एक्ट यानि कोरोना प्रभावित राज्य घोषित होने के बाद जो नई गाइडलाइन जारी होगी, उसका सभी को सख्ती से पालन करना होगा। कोरोना गाइडलाइन्स का पालन न करने की स्थिति में कानूनी कार्रवाई होगा। जुर्माना भी देना पड़ सकता है। बता दें 25 दिसंबर से ही प्रदेश में नाईट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि सरकार शादी समारोह में मेहमानों की उपस्थिति, मॉल, मार्केट, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर नए दिशा निर्देश जारी होंगे।

मंगलवार को मिले 80 नए संक्रमित

मंगलवार को उत्तर प्रदेश में 80 नए संक्रमित मिले हैं। सोमवार की तुलना में यह आंकड़ा दोगुना था। सोमवार को प्रदेश में 40 संकर्मित मिले थे। सबसे ज्यादा 28 मरीज नोएडा में मिले। गाजियाबाद में 12, लखनऊ में 11, आगरा में 5, मेरठ और मथुरा में 3-3 मामले आए हैं। इस दौरान 11 मरीज रिकवर भी हुए हैं। मुरादाबाद में 8 कोविड पॉजिटिव मिले हैं।

46 जिलों में फिर से फैला कोरोना

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश के 46 जिलों में फिर से कोरोना फैल चुका है। उन्होंने बताया कि कि राज्य में अब तक 9 करोड़ 23 लाख 44 हजार 421 सैंपल की जांच हो चुकी है। बीते 24 घंटे में 1 लाख 93 हजार 896 सैंपल की जांच हुई, जिसमें 80 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

यह भी पढ़ेंः-BCCI अध्यक्ष गांगुली कोराना पॉजिटिव, जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया कोरोना सैंपल