मुख्तार अंसारी के गुर्गों पर चला खाकी का वार, 11 हो चुके हैं गिरफ्तार, अब आगे ऐसा है पुलिस का प्लान 

59

मुख्तार अंसारी के गुर्गों पर अब पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। पुलिस अब उसके गुर्गों की तलाश में जुट चुकी है। अब तक11 गुर्गे पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं। उधर, इस दौरान पुलिस के हाथ गांजा सहित बेहद घातक हथियार भी हाथ लगे हैं। माना जा रहा है कि यह गुर्गे पुलिस जांच की कड़ी में बेहद अहम किरदार अदा कर सकते हैं, जिसे ध्यान में रखते हुए अब इन गुर्गों से कड़ी पूछताछ की जा सकती है। पुलिस की 48 टीमों ने इन गुर्गों को पकड़ने के लिए 22 ठिकानों पर छापेमारी भी की थी। इस दौरान 11 अपराधी गिरफ्तार किए गए तो वहीं 21 लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। ये भी पढ़े :मुख्तार अंसारी के बेटे के घर से निकला विदेशी हथियारों का जखीरा, 4431 कारतूस बरामद

इस संदर्भ में अधिक जानकारी देते हुए दिनेश पुरी कहते हैं कि मड़ियांव के हिस्ट्रीशीटर अभिषेक सिंह उर्फ बाबू को विभूतिखंड से पकड़ा गया है। मंडियाव का रहने वाला बाबू अक्सर मुख्तार की आड़ लेकर लोगों को डराने धमकाने का काम किया करता था। उधर, अंसारी का दूसरा गुर्गा अभिषेक के आवास से दो पिस्टल, और 24 खाली टिफिन बरामद हुई है। बताया जा रहा है कि इन टिफिनों का इस्तेामाल बम बनाने के लिए किया जाता था। उधर, इस मामले के बारे में पूरी जानकारी देते हुए पुलिस कमिशनर सुजीत पाण्डेय कहते हैं कि इस कार्रवाई को अंजाम तक पहुंचाने के लिए 6 डीसीपी के नेतृत्व में इस अभियान को अंजाम दिया गया।

इस दौरान पुलिस के निशाने पर सबसे अधिक वे गुर्गे रहे, जो मौजूदा समय में जमानत पर रिहा चल रहे हैं। पुलिस इस मामले में पिछले दो महीने से कार्रवाई कर रही है। पुलिस का दो टूक कहना है कि अगर इस मामले में किसी अपराधी की किसी भी तरह से संलिप्तता पाई गई, तो फिर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ये भी पढ़े :एक्शन में योगी सरकार, अपने इस कदम से तोड़ी मुख्तारी अंसारी की आर्थिक कमर