KANPUR

कानपुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने एक तरफ जहां प्रदेश में लव जिहाद कानून लागू कर दिया है और हाल ही में पकड़े गए धर्म परिवर्तन (conversion) कराने वाले गिरोह पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दे रही है। वहीं दूसरी तरह कानपुर में कुछ परिवार ऐसे हैं जो मुस्लिमों के डर से पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं।

मामले को लेकर मिली जानकारी के मुताबिक यूपी (UP)के कानपुर शहर के कर्नलगंज इलाके के लगभग 10 हिंदू परिवारों का कहना है कि वे जल्द अपने घरों को बेचकर यहां से पलायन करने की प्लानिंग कर रहे हैं। इन परिवार के लोगों का आरोप है कि एक मुस्लिम धर्मगुरु ( Muslim religious leader) समर्थित लोगों की कथित धमकी की वजह से वह अपना घर छोड़कर पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं। इन लोगों ने मुस्लिम धर्म गुरु ( Muslim religious leader) समर्थित लोगों से धमकी मिलने के बाद अपने घरों के बाहर “यहां से पलायन” का पर्चा चस्पा कर दिया है। लोगों के पलायन की खबर सुनकर स्थानीय प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

मामले को लेकर पुलिस कमिश्‍नर ने कहा है, हमने छेड़छाड़ की घटना के बाद अपने इलाके में लोगों को असुरक्षित महसूस करने की शिकायतों के बाद मामला पंजीकृत कर लिया है। उन्होंने बताया कि छेड़छाड़ मामले को लेकर दो समुदायों के बीच विवाद था जिसमें चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कानपुर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इलाके के लगभग 8 से 10 हिंदू परिवारों ने आरोप लगाया कि ”शहर काजी” के साथ तीन लोग उनके पास आए और धमकी दी कि करीब पांच दिन पहले लड़की के साथ छेड़छाड़ के मामले को आगे बढ़ाया तो उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।

इसी डर से उक्त हिन्दू परिवारों ने इलाके को छोड़ने की धमकी दी है।पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने कहा कि हिन्दू परिवारों ने आरोप लगाया है कि तीन लोग शहर काजी के साथ आए और धमकी दी। उन्होंने बताया कि उन तीन लोगों की पहचान अभी नहीं हो सकी। पुलिस कमिश्‍नर (police commissioner) ने कहा कि परिवारों से घरों को नहीं बेचने और बिना भय इलाके में रहने को कहा गया है।

इसे भी पढ़ें:-बकरीद पर मुस्लिम धर्मगुरु ने कहा-हिंदूओं की भावनाओं का सम्मान करें, गाय की कुर्बानी न दें  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here