Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति लखनऊ

दिक्कत, किल्लत और जिल्लत से BJP पर साधा निशाना, अखिलेश ने YOGI सरकार के दावे पर कही ये बात

लखनऊ। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले योगी सरकार ने विधान परिषद में एक सवाल के जवाब में बताया कि कोरोना महामारी ,की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई है। सरकार के इस दावे पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार कहती है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई जान नहीं गई। इससे बड़ा कोई झूठ हो ही नहीं सकता है। भाजपा ने जनता को दिक्कत, किल्लत और जिल्लत के अलावा कुछ नहीं दिया। अखिलेश यादव ने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी केवल विज्ञापन करती है। कोरोना काल में जनता को अकेला छोड़ दिया। कोरोना काल में अस्पताल में बेड नहीं मिले। ऑक्सीजन की किल्लत से लोग मर रहे थे। गंगा में लाशों को अम्बार लग गया था। अखिलेश यादव ने तंज करते हुए कहा कि बाबा योगी की सरकार कहती है किसी की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई। यह सबसे बड़ा झूठ है।

अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लोग अस्पताल से लेकर श्मशान तक लाइन लगाए रहे थे। उन्होंने कहा कि इस बार जनता ने मन बनाया है कि झूठ बोलने वालों का सफाया हो जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश पता नहीं किस चीज में नंबर वन है। अब भाजपा को नारियल की जगह टमाटर से सड़कों का उद्घाटन करना चाहिए क्योंकि सड़को का हाल ऐसा है कि नारियल से सड़कें टूट जाती है। डबल इंजन की सरकार आपस में टकरा कर चल रही है। उन्होंने कहा कि बाबा योगी दूसरो के काम को अपना बता रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लोकसभा नहीं विधानसभा का चुनाव है और सपा ही विधानसभा चुनाव जीतेगी। उन्होंने कहा कि योगी सरकार ठोको वाला खेल खेल रही है। भाजपा ने जनता को दिक्कत, किल्लत और जिल्लत के अलावा कुछ नहीं दिया है। रायबरेली में अखिलेश यादव ने कहा कि साढ़े चार साल से बाबा मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि हम टैबलेट देंगे, स्मार्टफोन देंगे लेकिन हम जानना चाहते हैं कि साढ़े चार साल से नौजवानों को कौन से टैबलेट दे रहे हो आप। अब तक कितने लोगों को टैबलेट और कम्प्यूटर दिये। बाबा कंप्यूटर चलाना नहीं जानते इसलिए लैपटॉप नहीं मिल रहे। आप योगी सरकार चाहते हैं या योग्य सरकार चाहते हैं। पुलिस का 100 से 112 नंबर कर के कबाड़ कर दिया।

यह भी पढ़ेंःयोगी के स्वास्थ्य मंत्री का दावा, कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई किसी की मौत