Wednesday, December 8, 2021

लखीमपुर हिंसा मामले में आज सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई, इन रिपोर्टों से होगा खुलासा

Must read

- Advertisement -

दिल्ली /लखनऊ। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। उत्तर प्रदेश पुलिस को अब तक हुई कार्रवाई का ब्यौरा कोर्ट को देना है। एक सप्ताह पहले सुप्रीम कोर्ट की तरफ से जांच को लेकर उत्तर पुलिस को कड़ी फटकार लगाई गई थी। पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी के साथ असंतोष जताया था। पुलिस ने आरोपियों को रिमांड पर रखने पर जोर नहीं दिया। आरोपियों को आसानी से न्यायिक हिरासत में जाने दिया। सुप्रीम कोर्ट ने मजिस्ट्रेट के सामने गवाहों के बयान दर्ज न होने के लिए भी एसआईटी को फटकार लगाई थी। ज्ञात हो कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया क्षेत्र में तीन अक्टूबर को कार से रौंद कर चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गयी थी। मरने वालों में एक पत्रकार भी शामिल था।

- Advertisement -

लखीमपुर कांड में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शनिवार को तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने यह जानकारी दी थी। पुलिस के अनुसार अब तक इस मामले में कुल 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सिंगही कस्बे के मोहित त्रिवेदी, तिकुनिया कोतवाली क्षेत्र के रिंकू राणा और धर्मेंद्र सिंह के रूप में हुई है। अधिकारी ने बताया कि पुलिस हिरासत में लेकर अन्य आरोपियों से की गई पूछताछ के दौरान इनके नाम सामने आए, जिसके बाद इनकी गिरफ्तारी की गई।

लखीमपुर कांड में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा ‘टेनी‘ का बेटा आशीष मिश्रा उर्फ मोनू मुख्य आरोपी है। आशीष मिश्रा उर्फ मोनू को नौ अक्टूबर को हिरासत के बाद गिरफ्तार किया गया था। आशीष पुलिस रिमांड पर है। इस मामले में अब तक गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों में भाजपा वार्ड सदस्य सुमित जायसवाल, अंकित दास, लतीफ उर्फ काले, शेखर भारती, शिशु पाल, सत्य प्रकाश त्रिपाठी उर्फ सत्यम, नंदन सिंह बिष्ट, आशीष पांडे और लवकुश राणा शामिल हैं. आशीष पांडे और लवकुश राणा को छोड़कर अन्य सात आरोपियों को भी पूछताछ के लिए पुलिस ने अदालत की अनुमति के बाद अपनी रिमांड में लिया था।

बैलेस्टिक रिपोर्ट, लोकेशन रिपोर्ट का है इंतजार

उत्तर प्रदेश पुलिस को आशीष और अंकित दास के असलहों की बैलेस्टिक रिपोर्ट और घटनास्थल से मोबाइल लोकेशन की रिपोर्ट का इंतजार है। असलहों की बैलेस्टिक रिपोर्ट से जहां तय होगा कि लाइसेंसी असलहों से फायरिंग हुई थी कि नहीं। वहीं दूसरी तरफ मोबाइल डिटेल से मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की घटनास्थल पर मौजूदगी भी तय होगी। ज्ञात हो कि आशीष मिश्रा फिलहाल लखीमपुर में डेंगू, शुगर और हार्ट की शिकायत के चलते जिला अस्पतालमें भर्ती है।

यह भी पढ़ेंःलखीमपुर कांड : पीड़ितों के आश्रितों को कांग्रेस ने प्रदान की एक-एक करोड़ की सहायता राशि

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article