Monday, December 6, 2021

योगी सरकार का ऐसा खौफ, कैराना का कुख्यात जमानत तोड़वाकर पहुंचा जेल

Must read

- Advertisement -

शामली। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के सख्त तेवर के बाद अपराधी अब घूटने टेकने लगे हैं। अगस्त 2014 में व्यापार मंडल के कोषाध्यक्ष विनोद सिंघल की हत्या के बाद कुख्यात बदमाश फुरकान पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का खौफ देखने को मिला है। फुरकान ने गैंगस्टर के एक मुकदमे में जमानत तोड़वाकर कोर्ट में पेश हो गया। जमानत खत्म होने के बाद उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। ज्ञात हो कि दो दिन पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कैराना आये थे और उन्होंने बदमाशों को चेतावनी दी थी। मुख्यमंत्री ने कहा था कि या तो बदमाश मारे जाएंगे या फिर वह अपनी स्वेच्छा से जेल का रास्ता देखें।

- Advertisement -

योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद बुधवार को कैराना में बदमाश फुरकान ने अपनी जमानत खत्म करा कर आत्मसमर्पण कर दिया। 16 अगस्त 2014 को दिनदहाड़े बाजार बेगमपुरा में दुकान पर बैठे व्यापार मंडल के कोषाध्यक्ष विनोद सिंघल की हत्या कर दी गई थी। इसके 8 दिन बाद मुकीम गिरोह ने आयरन स्टोर के मालिक ममेरे भाइयों राजू और शंकर की रंगदारी ना देने पर हत्या कर दी थी। विनोद सिंघल की हत्या में वांछित फुरकान निवासी कैराना को पुलिस ने 2017 में मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार करके जेल भेजा था। वर्तमान में फुरकान जमानत पर जेल से बाहर था।

मुख्यमंत्री ने दी थी बदमाशों को चेतावनी

ज्ञात हो कि योगी आदित्यनाथ ने कैराना दौरे के दौरान पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी। मुख्यमंत्री ने उन परिवारों से भी मुलाकात की थी जो सपा सरकार में बदमाशों के डर से पलायन कर गए थे और अब फिर से घर वापसी की है। उन्होंने उन परिवारों को भरोसा दिलाया की अब वे सुरक्षित हैं। इस दौरान बदमाशों को चेतावनी भी दी।

यह भी पढ़ेंः-कैराना पीड़ितों से मिले सीएम योगी, पलायन करने वालों से कही ये बात

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article