Friday, December 3, 2021

YOGI राज में ढेर हो गये मुख्तार गैंग के शार्प शूटर, ऐसे जब्त हुई अरबों की सम्पत्ति

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। UP STF  ने बुधवार रात राजधानी लखनऊ में बड़ी कार्रवाई की है। माफिया मुख्तार अंसारी के दो गुर्गों एक लाख के इनामी शूटर अलीशेर और 25 हजार का इनामी कामरान को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। यह पहला मौका नहीं था जब मुख्तार गैंग पर पुलिस कहर बनकर टूटी हो। UP POLICE , यूपी एसटीएफ लगातार मुख्तार गैंग का सफाया कर रही है। योगी सरकार के पिछले साढ़े चार साल में मुख्तार गैंग के कई शार्प शूटर्स एक-एक कर मारे गए हैं। यही वजह है कि कभी पूर्वांचल में जिस मुख्तार गैंग की तूती बोलती थी आज उस गैंग का सफाया होने की स्थिति में पहुंच चुका है।

- Advertisement -

पूर्वांचल के कई जिलों में उसके गैंग में शामिल लोगों की करोड़ों की संपत्ति को कुर्क भी किया गया है। मुख्तार अंसारी की पत्नी, बेटों व अन्य रिश्तेदारों की अरबों की संपत्तियों को भी सरकार ने जब्त कर आर्थिक चोट पहुंचाई है।
बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी की कभी पूर्वांचल से लेकर पश्चिम तक खौफ था। पूर्वांचल के लोगों के दिल में वह मंजर आज भी जिंदा है जब 2005 के मऊ दंगों के दौरान खुली गाड़ियों में असलहों के साथ मुख्तार अंसारी का काफिला निकलता था। 2005 में योगी आदित्यनाथ पर हुए हमले का आरोप भी मुख्तार अंसारी गैंग पर ही लगा था। अब 16 साल बाद जब योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री है तो इस गैंग के खिलाफ लगातार एक्शन जारी है

UP में अब तक इतने एनकाउंटर

जब से सूबे में योगी सरकार आई है तब से लेकर अब तक प्रदेश में संगठित अपराध व उससे जुड़े अपराधियों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई जारी है। 17 मार्च 2017 से लेकर 9 मार्च 2021 तक प्रदेश में 7791 पुलिस मुठभेड़ हुईं। इस मुठभेड़ में पुलिस की गोली लगने से 135 अपराधी मारे गए और 3039 घायल हुए। मुठभेड़ में 16,661 अपराधी गिरफ्तार हुए। मुख्तार अंसारी गैंग के कई सदस्य भी पुलिस मुठभेड़ में मारे गये।

यह भी पढ़ेंः-UP STF को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाशों को किया ढेर, BJP नेता की हत्या कर मचा दी थी सनसनी

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article