Categories
उत्तर प्रदेश लखनऊ

RSS ने तय किया UP का CM और चुनावी एजेंडा, ख्वातीन दस्ता और मौलाना प्रकोष्ठ को सौंपा काम

लखनऊ। विधानसभा चुनाव को लेकर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी के लिए मैदान में आ गया है। योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का चुनावी एजेंडा तय कर दिया है। योगी के काम और नाम पर संघ ने अपनी पूरी तरह से सहमति देते हुए मुहर लगा दी है। संघ की पत्रिका पांचजन्य के उत्तर प्रदेश विशेषांक ने योगी के कार्यों की सराहना की है। संघ के कार्यकर्ताओं को उत्तर प्रदेश विशेषांक की पांच लाख प्रतियां लोगों तक पहुंचाने का काम सौंपा गया है। भाजपा के समानान्तर बूथ स्तर तक संघ के कार्यकर्ता जुटेंगे।

आरएसएस ने इसके साथ ही अपने सभी आनुषांगिक संगठनों को योगी के पक्ष में जन अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। आनुषांगिक संगठनों योगी के अभियान में शामिल हो गये हैं। आरएसएस का मुस्लिम राष्ट्रीय मंच भी योगी के पक्ष में जन अभियान चलाने जा रहा है। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का ख्वातीन दस्ता (महिला विंग) और मौलाना प्रकोष्ठ से जुड़े लोग योगी सरकार का प्रचार करेंगे। सभी का एजेंडा योगी को यूपी का सीएम बनाना है।
संघ के बीएल संतोष ने बीजेपी के संगठन प्रभारी समेत अन्य बड़े नेताओं के साथ बैठक कर अपने चुनावी अभियानों पर चर्चा की। बीजेपी के स्थानीय जनप्रतिनिधियों के प्रति जनता में जो नाराजगी है। उसे दूर करने के लिए संघ अब बूथ स्तर पर बीजेपी के समानांतर जुटेगा। बीजेपी से जनता की नाराजगी को संघ दूर करने की कोशिश करेगा।

RSS Chief Mohan Bhagwat

UP में बढ़ी संघ की सक्रियता

यूपी में चुनाव नजदीक आते ही संघ की सक्रियता लगातार बढ़ रही है. संघ की पत्रिका पांचजन्य के यूपी विशेषांक में योगी के विकास कार्यों की खूब सराहना की गई है। संघ के अनुषांगिक संगठन सहकार भारती ने अपना राष्ट्रीय अधिवेशन इसी माह यूपी में पहली बार किया। इस अधिवेशन में सीएम योगी से लेकर अमित शाह मौजूद रहे। उसके मंच से योगी के विकास कार्यों की आरएसएस ने तारीफ की।

दास्तान-ए-योगी का विमोचन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने दास्तान-ए-योगी पुस्तक प्रकाशित कराई है। इसका विमोचन 30 दिसंबर को आरएसएस के इंद्रेश कुमार लखनऊ में करेंगे। इस पुस्तक में योगी की संघर्ष गाथा लिखी गई है। उन्हें उत्तर प्रदेश में विकास पुरूष के रूप में स्थापित किया गया है। इस किताब को विमोचन के बाद मुस्लिम महिलाएं और मौलाना बूथ स्तर तक वितरित करेंगे।

यह भी पढ़ेंः-UP चुनाव से पहले संघ प्रमुख भागवत और सपा संरक्षक मुलायम की मुलाकात, सियासी गलियारों में बढ़ी हलचल