Monday, December 6, 2021

आजमगढ़ बनाम आर्यमगढ़ पर बढ़ी रार, अखिलेश ने कहा सरकार बनने पर बदल देंगे नाम

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। आजमगढ़ का नाम आर्यमगढ़ करने के सीएम योगी के संकेतों पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव तल्ख हो गये हैं। उन्होंने कहा है कि सपा सरकार आते ही हम भी नाम बदल देंगे। सोमवार को लखनऊ में मीडिया से बात करते हुए अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अभी तक केवल नाम बदलने का ही काम किया है। वह नाम बदलने में अपना समय बिता रहे हैं। अखिलेश ने कहा कि जब तक नया नाम लिखवाकर सुखाया जाएगा तब तक सपा सरकार आ जाएगी। बोर्ड सुखने से पहले सपा सरकार आ जाएगी। अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में सीएम योगी ने शनिवार को गृह मंत्री अमित शाह के साथ स्टेट यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखी थी। शिलान्यास समारोह के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ का नाम बदलकर आर्यमगढ़ करने का संकेत दिया था। उन्होंने कहा कि राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना वास्तव में ‘आजमगढ़ को आर्यमगढ़‘ में बदल देगी। यह जिले वासियों के लिए उपलब्धि होगी।

- Advertisement -

आजमगढ़ का नाम बदलने को लेकर पूछे गए सवाल पर अखिलेश ने सीएम योगी पर कई हमले किये। उन्होंने कहा कि यह लोग आजमगढ़ का विकास नहीं कर सकते हैं। ये लोग सिर्फ नाम बदलने की राजनीति कर रहे हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि जब लोग कोरोना से मर रहे थे, ऑक्सीजन तक का इंतजाम नहीं किया गया। प्रदेश सरकार ने आजमगढ़ में ऑक्सीजन प्लांट तक नहीं लगावाया गया। सांसद निधि से यहां ऑक्सीजन प्लांट लगवाया गया है। विधानसभा चुनाव के दौरान आजमगढ़ की याद आ रही है।

गाजीपुर से आजमगढ़ तक की रथयात्रा पर रोक को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता का का बस चले तो यह हमें पार्टी कार्यालय से उठते ही गिरफ्तार कर ले। इन लोगों ने जनता को परेशान कर रखा है। जनता ही इनका बुखार उतारेगी। अखिलेश यादव ने कहा कि जहाज में पड़ने वाला तेल सस्ता और आम आदमी की गाड़ी वाला पेट्रोल महंगा हो गया है। अखिलेश ने कहा कि ओएनजीसी को छह सौ गुना का मुनाफा हुआ है। इसके बाद भी तेल की कीमतें बढ़ाई जा रही हैं। आखिर पैसा जा कहां जा रहा है। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी से महंगाई पर तीखे सवाल किये।

गाजीपुर में समाजवादी पार्टी की विजय रथ यात्रा को परमिशन नहीं मिलने पर नाराजगी जतायी। उन्होंने कहा कि ‘मुझे लगता था कि परमिशन दे देंगे कि हम भी समाजवादी सरकार में बनाए गए पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर चल सकें। उद्घाटन के बहाने किसी को चलने की अनुमति नहीं दी गई है और सुनने में आ रहा है कि जो भी एंट्री है, वहां रास्ते रोक दिए गए हैं। कुछ लोगों को घर में कैद करने का काम होने लगा है। समाजवादी पार्टी की सरकार में बनाए गए एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन कर रहे हैं. पहले समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का नाम बदलकर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे कर दिया। उन्होंने कहा कि जिस क्वालिटी के साथ एक्सप्रेस-वे को बनना चाहिए था, उस क्वालिटी से इसे नहीं बनाया गया है। एक्सप्रेस-वे पर अगर आपने रफ्तार बढ़ा दी तो हो सकता है कि आपके पेट में दर्द हो जाए, आपके कमर में दर्द हो जाये।

एक्सप्रेस-वे पर एक भी शौचालय नहीं: अखिलेश

अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा कि ‘बीजेपी का सबसे पसंदीदा काम है शौचालय बनाना, लेकिन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में कहीं शौचालय नहीं है। इसलिए चढ़ने से पहले अपना ख्याल स्वयं रखिये। सपा प्रमुख ने आगे आरोप लगाते हुए कहा कि जिस कंपनियों से इन्होंने एक्सप्रेस-वे का टेंडर छीना, वही कंपनी अब अयोध्या में राम मंदिर बना रही है। अखिलेश ने कहा कि ‘जिन कंपनियों से इन्होंने काम छीना, वो अब देश के सबसे मजबूत काम कर रहीं हैं। अगर वही कंपनी एक्सप्रेस-वे बनाती तो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से अच्छा एक्सप्रेस-वे वही होता। ये गरीबी दूर करता। बेरोजगारी करता. पिछड़ापन दूर करने का काम करता लेकिन पता नहीं कौनसी क्वालिटी हमारे बाबा मुख्यमंत्री ने लाने का काम किया। शायद प्रधानमंत्री जी हमारे मुख्यमंत्री जी से पूछेंगे कि बेहतरीन कंपनियां थीं जो काम करने जा रही थीं। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से अच्छी सड़क बनती। केवल सस्ती बनाने के चक्कर में डिवाइडर कम कर दिया और आधे-अधूरे का उद्घाटन करने जा रहे हैं। हमें खुशी इस बात की है कि पूर्वांचल की जनता एक्सप्रेस-वे पर चलकर लखनऊ से दिल्ली पहुंच जाएगी. लेकिन आधे-अधूरा बनाया है। उन्होंने कहा कि अगर समाजवादी पार्टी की सरकार बनती है तो हम भरोसा दिलाते हैं कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर मंडियां बनाएंगे. वहां सारी सुविधाएं देंगे।

यह भी पढ़ेंःलखीमपुर की जीप में भाजपा का पराजय जुलूस निकालेगी जनता : अखिलेश यादव

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article