सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के सदर बाजार थाना पुलिस ने सर्विलांस टीम के साथ मिलकर रेलवे कर्मचारी की हत्या का पर्दाफाश है। पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की। दोनों ने हत्या का जुर्म स्वीकार भी कर लिया है। हैरत की बात यह है कि पत्नी ने बताया कि प्रेमी ने पैर पकड़े तो उसने अपनी चुन्नी से पति की छाती पर बैठकर उसका गला घोंटा। हालांकि इससे पहले आरोपितों ने उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया था। दोनों आरोपितों को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया।

एसपी सिटी राजेश कुमार ने संवाददाताओं से बताया कि शहर के रेलवे रोड स्थित रेलवे के क्वार्टर में रहने वाले रेलवे विभाग के खलासी मोहन पुत्र स्व. श्रीकृष्ण निवासी खरावड़ थाना आईएनटी जिला झज्जर की चार दिन पहले गला घोंटकर हत्या कर दी थी। इस हत्या में अज्ञात में मुकदमा दर्ज कराया गया था। सर्विलांस टीम और सदर बाजार थाना पुलिस ने मोहन की हत्या का खुलासा किया, इसके बाद पुलिस ने राहुल पुत्र रमेश निवासी सरूपगढ़ थाना चरखी दादरी जनपद झज्जर को हिरासत में लिया।

राहुल ने कबूल किया कि हत्या वाली रात वह मोहन की पत्नी पूजा से मिलने के लिए आया था, लेकिन मोहन ड्यूटी से वापस आ गया तो उसने दोनों को पकड़ लिया। जिसके बाद मोहन को पत्नी पूजा ने समझा दिया कि वह उसका रिश्तेदार है। इसी दौरान राहुल और पूजा ने एक साजिश के तहत मोहन को कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया। रात में जब मोहन को होश आया तो उसने पूजा और राहुल को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया। इसके बाद राहुल ने मोहन के पैर पकड़े और पत्नी ने अपनी चुन्नी से मोहन के सीने पर बैठकर उसका गला घोंट दिया। शव को अपने घर के बाहर ही फेंक दिया।

पुलिस पूछताछ में राहुल और पूजा ने बताया कि उनकी दोस्ती फेसबुक से हुई थी। वह मैसेंजर पर बातचीत करते थे। इसके बाद एक दूसरे के नम्बर ले लिए। मोहन से छिपाकर पूजा एक एंड्रायड फोन रखती थी, जिसे राहुल ने ही दिलाया था। राहुल चरखी दादरी में ही सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। पूजा की कॉल डिटेल खंगाली तो राहुल की बातचीत पकड़ी गई।

इसे भी पढ़ें:यौन शक्ति बढ़ाने का तेल बेचने के नाम पर पूर्व सूचना आयुक्त से ठगी, चार ग‍िरफ्तार