Friday, December 3, 2021

आगरा में पीड़ित परिवार से मिल कर प्रियंका ने पुलिस पर उठाये सवाल, गले लगाकर मदद का वादा

Must read

- Advertisement -

आगरा। विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों का सियासी दौरा तेज हो गया है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आगरा के जगदीश पुरा थाने के माल खाने में हुई 25 लाख की चोरी मामले में पकड़े गए सफाईकर्मी की मौत के बाद परिवार से मिलीं। पीड़ित के घर पहुंचकर प्रियंका गांधी वाड्रा बेहद भावुक हो गईं। सफाईकर्मी के घर मौजूद रोते बिलखते बच्चों को प्रियंका वाड्रा ने गले लगाकर ढांढस बंधाया। उन्हांेने परिजनों से हर सम्भव मदद, सहायता का वादा किया। इसके बाद प्रियंका गांधी वाड्रा ने बाहर निकल कर मीडिया के सामने पुलिस कार्यशैली पर तीखे सवाल उठाएं। उन्होंने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि हिरासत में पुलिस का बर्ताव बेहत खराब था।

- Advertisement -

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि हम सब आजाद भारत में हैं, ऐसा महसूस ही नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार बेहद गरीब है और उसके साथ किस तरह का बर्ताव हुआ है वह बहुत ही दुखद है। प्रियंका गांधी ने कहा आरोपी को यातनाएं दी गई और उसके परिवार के कई लोगों को पुलिस ने हिरासत में लेकर प्रताड़ित किया। यातना और पुलिस प्रताड़ना से सफाईकर्मी की मौत हुई है। प्रियंका गांधी ने कहा कि जिस तरह से लखीमपुर खीरी में पीड़ित किसान परिवारों की मदद की गई है उसी तरह से आगरा के इस पीड़ित परिवार की मदद के लिए वह राजस्थान के मुख्यमंत्री से भी बात करेंगी।

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र की मोदी सरकार एवं उत्तर प्रदेश योगी सरकार पर जमकर हमला किया। प्रियंका गांधी ने कहा कि देश और प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। पुलिस अब जनता की रक्षक नहीं रह गयी है। इतना ही नहीं अगर महिला पुलिसकर्मी मेरे साथ सेल्फी खिंचा ली तो उस पर भी सरकार कार्रवाई कर देती है। प्रियंका गांधी ने कहा कि संघर्ष करके वर्दी में तैनात बेटियों ने अगर मेरे साथ सेल्फी खिंचा ली तो कौन सा गुनाह कर दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार अपना कर्तव्य भूल गयी है। प्रियंका गांधी ने कहा कि आगरा में जो घटना हुई है उसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम है। सफाईकर्मी को हिरासत में ले जाने के बाद परिवार को भी लगातार पुलिस प्रताड़ित करती रही। अब जब सफाईकर्मी की मौत हो गई है तो उसके हक में आवाज बुलंद करने वालों को आगरा आने से रोका जा रहा है। प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू और आचार्य प्रमोद कृष्णम भी मौजूद रहे। सभी नेताओं ने पीड़ित परिवार के सदस्यों से काफी देर तक बात की और उनका दुख-दर्द साझा किया। मुलाकात के दौरान प्रियंका गांधी कई बार भावुक नजर आईं। प्रियंका गांधी बार-बार यही कहती रही कि उत्तर प्रदेश में जो हो रहा है वह ठीक नहीं है। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पीड़ित परिवारों के साथ खड़ी है।

यह भी पढ़ेंः-हिरासत में सफाईकर्मी की मौत, पीड़ित परिवार से मिलने जा रहीं प्रियंका गांधी हिरासत में

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article