दो भाईयों के बैग को देख हैरान रह गए पुलिस अधिकारी, चेकिंग में निकला करोड़ों का सोना

77
Gold theft

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से हाल ही में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसे देखने के बाद जवानों के भी पैरों तले जमीन खिसक गई है. दरअसल ये पूरा मसला मुगलसराय स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन का है. जहां पर जीआरपी (GRP) और आरपीएफ (RPF) मिलकर एक संयुक्त कार्रवाई में लोगों की चेकिंग कर रहे थे. इस चेकिंग में अचानक से जवानों को दो किलो गोल्ड ज्वेलरी मिली. जिसकी कीमत एक करोड़ रुपये बताई जा रही है. इस केस में पुलिस की टीम ने दो सगे भाइयों को भी गिरफ्तार कर लिया है.

ये भी पढ़ें:- उम्मीदों से भी ज्यादा सस्ता हुआ सोना, चांदी का रहा ऐसा हाल, फटाफट जानें 16 अक्टूबर के दाम 

दरअसल, बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) को ध्यान में रखते हुए पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर आरपीएफ और जीआरपी की टीम ट्रेनों में चेकिंग ऑपरेशन को अंजाम दे रही थी. इसी दौरान जवानों की निगाहें दो संदिग्ध शख्स पर गई. जिनके पास एक बैग था. दोनों को देखकर पुलिस को शक हुआ और उन्होंने दोनों युवकों का बैग खोला तो उनकी भी आंखें विश्वास नहीं कर पा रही थी कि जो उन्होंने देखा वो सच है. क्योंकि वो पूरा बैग सोने के गहनों से भरा हुआ था.

फिलहाल बताया जा रहा है कि, पुलिस की टीम इन दोनों शख्स को लेकर सीधा जीआरपी थाने पहुंची. इसके बाद गहनों को तोला गया, तो पता चला कि बैग में कुल 2 किलो सोना था. जिनकी कीमत इस समय तकरीबन एक करोड़ रुपये कही जा रही है. Gold theftऐसे में जब युवकों से इस गहने के बारे में पूछताछ की गई तो दोनों ने कबूल किया कि वो ये गहने पश्चिम बंगाल के मेदिनीपुर से लेकर नई दिल्ली जा रहे थे. खबरों के मुताबिक दोनों भाई डीडीयू जंक्शन पर ट्रेन बदलने के लिए उतरे थे, लेकिन उसी वक्त आरपीएफ और जीआरपी की नजरों में दोनों आ गए.

हैरानी वाली बात तो ये है कि, इन दोनों युवकों के पास से काफी ज्यादा सोना बरामद हुआ. लेकिन ज्वेलरी से जुड़ी कोई रसीद या कागजात नहीं मिले. यही वजह है कि जीआरपी टीम को दोनों युवकों को अपनी हिरासत में लेना पड़ा. इसके साथ ही जवानों ने ज्वेलरी को यहीं जब्त कर लिया है. Gold theftइस केस के बारे में जीआरपी ने सेल टैक्स से लेकर इनकम टैक्स और डीआरआई को भी जानकारी पहुंचा दी है. ताकि जांच के सिलसिले को आगे बढ़ाया जा सके.

इस बारे में बात करते हुए डीडीयू जंक्शन के जीआरपी के इंस्पेक्टर आरके सिंह ने कहा है कि, दोनों मेदिनीपुर से गोल्ड ज्वेलरी लेकर निकले थे, दोनों युवकों को दिल्ली पहुंचना था.Gold theft लेकिन आरपीएफ और जीआरपी की चेकिंग में दोनों का राज खुल गया और ये जवानों के निशाने पर आ गए. इनके पास किसी तरह का कोई कागजात नहीं मिला था. ऐसे में दोनों युवकों के खिलाफ कार्रवाई जारी है. इस मामले के बारे में हमने सेल टैक्स, इनकम टैक्स और डीआरआई को भी सूचना दे दी है.

ये भी पढ़ें:- लूटपाट के आरोप में इंटरनेशनल गोल्ड मेडलिस्ट रेसलर समेत 4 लोग गिरफ्तार