Categories
उत्तर प्रदेश बस्ती

खिलाड़ियों को मिलेगा बेहतर खेल मैदान और संसाधन, ग्रामीणों ने दिया नारा, अबकी बार अपना हो क्षेत्रीय विधायक

बस्ती। खिलाड़ियों में खेल कौशल तो है लेकिन मैदान के साथ सुविधाओं के अभाव में वह फलक नहीं आ पा रहे हैं। खिलाड़ियों की पीड़ा और खेल मैदान की जरूरत को देखते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता रमाकांत पांडेय ने कहा कि अब खिलाड़ियों को अच्छा मैदान मिलेगा जिससे वह अपने कौशल का बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे। उन्हें खेल संसाधनों की कमी नहीं होगी। बस्ती के कप्तानगंज विधानसभा क्षेत्र के रमवापुर में क्रिकेट प्र्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए श्री पांडेय ने कहा कि खिलाड़ियों को काम खेलना है। खेल के संसाधन और मैदान की जिम्मेदारी हम सब की है। खिलाड़ियों को साफ, समतल खेल मैदान और खेल के संसाधन मिलेंगे। उन्होंने खिलाड़ियों को हौसला बढ़ाते हुए अच्छे प्रदर्शन के लिए प्रेरित किया।

 ramakant oanday cricket

इस दौरान उन्होंने गोरखपुर में 7 दिसम्बर को आयोजित होने वाले पीएम मोदी के कार्यक्रम के लिए लोगों प्रोत्साहित किया। श्री पांडेय ने कहा कि गोरखपुर में खाद कारखाना से इस क्षेत्र के किसानों को बढ़ा लाभ मिलेगा।

उन्होंने बेलसड एवं मुसहा चैराहे पर क्षेत्र के लोगों से मुलाकात की। इस दौरान लोगों से उनकी खेती-बारी और जीवनचर्या से अवगत हुए। ग्रामीणों को सरकार के जनकल्याणकारी योजनाओ के बारे में जानकारी दी।

 Ramakant panday guptgu

रमाकांत पांडेय ने बेलवाराजा के प्रधान बुद्धिराम यादव के परिजनों से मुलाकात की। दो छोटे बच्चों से मिल कर भावपूर्ण बातें की।

 ramakant panday child

बचपन की यादें हुईं ताजा

बस्ती के कप्तानगंज विधानसभा क्षेत्र के सिकटा गांव पहुंचने पर बचपन की यादें ताजा हो गयीं। अपने जन्म स्थान (ननिहाल ) में लोगो से मिल कर एक बार फिर बचपन के संस्मरण याद आ गये।

 ramakant panday nanihal

विधानसभा क्षेत्र के संतोष नगर चैराहे पर आज्ञा राम  के परिजनों से मुलाकात हुई। परिजनों ने भावी चुनाव और उसकी स्थिति के बारे में बताया। मुलाकात के दौरान लोगों ने स्थानीय विधायक की चाहत बतायी। लोगों को कहना थी कि बस्ती के लिए स्थानीय विधायक होना चाहिए। बाहरी आदमी हमारी पीड़ी, सुख-दुख को नहीं समझेगा। ‘अब की बार अपना हो विधायक’ का नारा दिया। जलेबीगंज बाजार में जनसंपर्क के दौरान लोगांे ने भारतीय जनता पार्टी की मजबूती के बारे अपने विचार रखे।

यह भी पढ़ेंःशेखापुर चौराहे पर ग्रामीणों के बीच भावुक हुए रमाकांत, मुलाकात में दिखा अपनापन