हमलावर सचिन की योगी समेत कई नेताओं के साथ तस्वीरें वायरल, ओवैसी से करता था नफरत

0
835
Sachin hamlawar
  • सचिन शर्मा ऊर्फ सचिन पंडित कानून का रहा है विद्यार्थी

लखनऊ। असदुद्दीन ओवैसी पर हमले के दोनों आरोपियों सचिन पंडित और शुभम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों से सख्त पूछताछ की जा रही है। हमले का आरोपी सचिन पंडित ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना का रहने वाला है। दुरयाई गांव के रहने वाले सचिन के पिता पिता विनोद पंडित प्राइवेट कंपनियों में ठेकेदार हैं। सचिन लॉ का विद्यार्थी रहा है। आरोपी सचिन ने भारतीय जनता पार्टी की सदयस्ता ग्रहण की हुई थी, जिसकी स्लिप सचिन ने सोशल मीडिया पर डाला हुआ है। सचिन की तस्वीरे सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, सांसद महेश शर्मा सहित कई बीजेपी नेताओं के साथ वायरल हो रही है। इन तस्वीरों के आने के बाद भारतीय जनता पार्टी पर सवाल तेजी से उठने लगे हैं।

Sachin hamlawar

दूसरा आरोपी शुभम सहारनपुर का रहने वाला है। शुभम 10वीं पास है और खेती करता है। पुलिस की अब तक की जांच में शुभम का कोई आपराधिक इतिहास नहीं मिला है। पूछताछ में शुभम और सचिन ने बताया है कि ये दोनों ओवैसी और उनके छोटे भाई के बयानों से बेहद नाराज थे। फेसबुक, ट्विटर, सोशल मीडिया पर ये ओवैसी भाइयों के भाषण सुनते थे। ओवैसी के भाषणों से बेहद नफरत करते थे। दोनों के पास से कंट्री मेड मुंगेर टाइप पिस्टल बरामद हुई है जो इन्होंने हाल ही में किसी से खरीदा था। आरोपियों को हथियार देने वालों के नाम सामने आए हैं जिनसे इन्होंने हथियार खरीदे थे। आरोपियांे की मदद करने वालों को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

Sachin hamlawar

भाजपा सांसद महेश शर्मा के साथ आरोपी सचिन पंडित

फेसबुक पर सचिन हिन्दू नाम से सचिन पंडित का प्रोफाइल है जिसमें उसने खुद को हिन्दू संगठन का सदस्य बताया है। सचिन हिंदू संगठन से जुड़ा हुआ है। शुक्रवार को 12 बजे के बाद हापुड़ कोर्ट में दोनों को पेश किया जाएगा। पुलिस इनकी कस्टडी की मांग करेगी। साथ ही आज ही पुलिस इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस जानकारी देगी। ओवैसी पर हमला करने वाला आरोपी सचिन पंडित के परिजनों से गुरुवार रात करीब 5 घंटे ग्रेटर नोएडा पुलिस ने पूछताछ की है। सचिन शर्मा (सचिन पंडित) के पिता विनोद पंडित ने बताया कि उनका 20 से 25 प्राइवेट कंपनियों में ठेकेदारी का काम है जिसमें वह कंपनियों को लेबर प्रोवाइड करते हैं। सचिन पंडित भी उनके साथ ही काम करता है। कल सुबह करीब 8 बजे वह घर से यह कहकर निकला कि मैं कंपनी में बात करने के लिए जा रहा हूं. दो-तीन दिन से थोड़ा परेशान भी लग रहा था। बीजेपी की सदस्यता का कार्ड जो सचिन ने अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है।

असदुद्दीन पर हमला

गुरुवार शाम असदुद्दीन ओवैसी मेरठ से दिल्ली लौट रहे थे। लौटते समय टोल प्लाजा के पास उनकी गाड़ी पर 4 राउंड फायरिंग की गई है।

हमले के विरोध में में प्रदर्शन

ओवैसी पर हुए हमले के विरोध में पार्टी के सदस्य देशभर में शुक्रवार को शांतिपूर्ण विरोध‘-प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान डीएम या आयुक्त को ज्ञापन देकर असदुद्दीन ओवैसी पर हमलों की जांच की मांग की जाएगी।

ये भी पढ़ेंः-असदुद्दीन ओवैसी की कार पर फायरिंग, दोनों हमलावर गिरफ्तार, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने कही ये बात