Categories
उत्तर प्रदेश लखनऊ

TET EXAM के पेपर की फोटो कापी बरामद, छापेमारी में 16 से अधिक हो चुकी है गिरफ्तारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा- 2021 (TET) पेपर लीक होने के कारण रद कर दी गयी है। पेपल लीक कराने में शामिल आरोपियों के खिलाफ सघन छापेमारी की जा रही है। वॉट्सऐप पर पेपर वायरल करने वाले गिरोह के तीन आरोपियों को उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने शामली से गिरफ्तार कर लिया है। यहां पर पकड़े गए आरोपितों का सरगना मथुरा का बबलू पेपर लेकर आया था। जबकि प्रयागराज से 13 साल्वर को पकड़ा गया है। इनमें आठ बिहार से हैं। एसटीएफ ने शामली के रवि पंवार, मनीष उर्फ मोनू और धर्मेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया है। उनके कब्जे से टीईटी परीक्षा के पेपर की फोटो कापी बरामद की गई है।

ADG-low-order-prashant-kumar

सीओ एसटीएफ ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि अभ्यर्थितों से तीन से पांच लाख की रकम वसूलने की बात सामने आई। पुलिस तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही थी जिससे अब एसटीएफ इनसे पूछताछ कर रही है। पेपर आउट होने के बाद पूरे प्रदेश की परीक्षा स्थगित कर दी गई है। सभी से पूछताछ चल रही है। इसका पेपर कहां से और कैसे लीक हुआ इसकी भी छानबीन हो रही है। प्रयागराज में टीईटी की परीक्षा के 183 केन्द्र बनाए गए थे। शनिवार को एसटीएफ को साल्वर गिरोह के सक्रिय होने की भनक लग गई थी। साल्वर की तलाश में अलग-अलग स्थानों पर छानबीन तेज कर दी गई थी। कई संदिग्ध के मोबाइल नंबर भी सर्विलांस पर लगा दिए गए थे। एसटीएफ की चैकसी से ही परीक्षा में सेंध लगाने वालों को खुलासा हो सका।

रविवार सुबह परीक्षा शुरू होने से पहले एसटीएफ की टीमों ने कई जगह पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। इसके बाद छिवकी से आठ, झूंसी से तीन और जार्जटाउन थाना क्षेत्र से दो युवकों हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई। हिरासत में लिये गये लोगों से पता चला है कि सभी लोग दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने आए थे। इसमें नैनी के छिवकी इलाके से पकड़े गए आठ साल्वर बिहार के अलग-अलग स्थान के रहने वाले बताए जा रहे हैं।
ज्ञात हो कि परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद परीक्षा स्थगित हो गयी है। अब तक कार्रवाइयों की जानकारी ADG LAW & ORDER प्रशांत कुमारने प्रेसवार्ता में दी है।

यह भी पढ़ेंःUPTET EXAM : पेपर लीक होने से परीक्षा रद, इन शहरों में छापेमारी के बाद दबोचे गये जालसाज