Monday, December 6, 2021

ओवैसी की धमकी : CAA, NRC खत्म नहीं हुआ तो UP की सड़कों को शाहीन बाग बना देंगे

Must read

- Advertisement -

बाराबंकी। विधानसभा चुनाव से पहले सियासी बयानबाजी तेज हो गयी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के तीन दिन बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बड़ी मांग की है। उन्होंने कहा है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर के फैसले को भी वापस लिया जाना चाहिए। असदुद्दीन ओवैसी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर CAA और NRCको खत्म नहीं किया गया तो प्रदर्शनकारी “सड़कों पर उतरेंगे और इसे शाहीन बाग में बदल देंगे। उन्होंने उत्तर प्रदेश को शाहीन बाग बनाने की धमकी दी। ओवैसी ने रविवार को उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सीएए संविधान के खिलाफ है, अगर बीजेपी सरकार इस कानून को वापस नहीं लेती है तो हम सड़कों पर उतरेंगे और यहां एक और शाहीन बाग बन जाएगा। दिल्ली का शाहीन बाग सीएए और एनआरसी के विरोध का केंद्र रहा है। विरोध स्थल जहां सीएए के खिलाफ आंदोलन के लिए सैकड़ों महिलाओं ने कई महीनों तक डेरा डाला था। दिल्ली पुलिस ने 2020 की शुरुआत में कोविड -19 महामारी के कारण यहां से प्रदर्शनकारियों को हटा दिया था। शाहीन बाग के बाद ही दिल्ली में हिंसा हुई थी।

ओवैसी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

- Advertisement -

एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला। ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी देश के सबसे बड़े ‘नौटंकीबाज’ हैं, और गलती से राजनीति में आ गए हैं। असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री को लेकर कहा, ”हाय मोदी जी, क्या एक्टिंग करते हो आप! मोदी गलती से राजनीति में आ गए और बॉलीवुड एक्टर्स बच गये। अगर वो बॉलीवुड में होते, तो बेस्ट एक्टर के सारे पुरस्कार उन्हें ही मिलते। असदुद्दीन ओवैसी ने कृषि कानूनों को लेकर कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अचानक से आए और उन्होंने कहा कि हमारी तपस्या में कोई कमी रह गई थी। ओवैसी ने कहा कि तपस्या तो उन किसानों की थी जिन्होंने 1 साल तक संघर्ष किया है। किसी भी सूरत में उन्होंने अपनी जमीन नहीं छोड़ी है।

बर्बादी के कगार पर हैं अंसारी और कुरैशी समुदाय

ओवैसी ने आगे बीजेपी सरकार पर प्रहार किया और उन्हें मुस्लिम समुदाय के पिछड़ेपन और बेरोजगारी के लिए जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने दावा किया कि आज यूपी में अंसारी समुदाय और कुरैशी समुदाय बर्बादी के कगार पर है। सरकार ने उन्हें बेरोजगार कर दिया है। कुरैशी समुदाय की मांस की दुकानों पर ताला लग गया है। बूचड़खाने बंद हो गए हैं। बुनकरों की आय में कमी आई है। ओवैसी ने कहा कि सरकार सिर्फ दिखावा कर रही है उसने इस समाज के लिए कोई काम नहीं किया है।

यह भी पढ़ेंः-विधानसभा चुनाव : ओवैसी-शिवपाल को अखिलेश-राजभर ने ऐसे दिया झटका, अब बदल जाएंगी पूर्वांचल की तस्वीर

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article