Friday, December 3, 2021

ओवैसी, भाजपा के रास्ते साइकिल पर सवार हो गये ओमप्रकाश राजभर, गठबंधन पर कही ये बात

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। राजनीति, सियासत में गठबंधन का ऊंट किस करवट बैठेगा इसका अनुमान लगा पाना मुश्किल है। राजनीतिक दल और उसके मुखिया विधानसभा चुनाव से पहले सभी गठबंधन का आजमा रहे हैं। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने असदुद्दीन ओवैसी के साथ मिलकर भागीदारी संकल्प मोर्चा बनाया। सूबे में घूमकर कर दोनों नेताओं ने रैली भी की। माना जा रहा है कि ओमप्रकाश राजभर का यह गठबंधन रहेगा। एक सप्ताह पहले बीजेपी के साथ दोस्ती का हाथ भी बढ़ाया था लेकिन ओम प्रकाश राजभर ने आखिर में सपा की साइकिल पर बैठने वाले हैं। माना जा रहा है कि सपा से गठबंधन तय कर लिया है। ओमप्रकाश राजभर ने इस बात को खुद ही सार्वजनिक किया है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने बुधवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मुलाकात की है। उन्होंने मुलाकात के बाद ट्वीट कर के सपा के साथ गठबंधन का ऐलान कर दिया है।

- Advertisement -

Akhilesh yadav

उन्होंने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ उनकी मुलाकात का एक वीडियो भी शेयर किया है। ओम प्रकाश राजभर ने ट्वीट कर कहा कि ‘अबकी बार, भाजपा साफ। समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर आए साथ। दलितों, पिछड़ों अल्पसंख्यकों के साथ सभी वर्गों को धोखा देने वाली भाजपा सरकार के दिन हैं बचे चार। पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के सुप्रीमो अखिलेश यादव से शिष्टाचार मुलाकात की। ओम प्रकाश राजभर के साथ अखिलेश यादव की मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी ने भी आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर कहा कि ‘वंचितों, शोषितों, पिछड़ों, दलितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे। सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ!।

सपा के ओर से कहा गया है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के संस्थापक ओमप्रकाश राजभर सदैव गरीब, किसान, मजदूर, दलित व पिछड़े वर्ग के लिए लड़ते आए हैं। सुभासपा ने हमेशा सामाजिक न्याय की बात कही है। चाहे फिर वह आबादी व आर्थिक आधार पर आरक्षण, सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू करना, प्राथमिक विद्यालय में तकनीकी शिक्षा, घरेलू बिजली बिल माफ, महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण, गरीबों को मुफ्त इलाज, कुटीर एवं लघु उद्योग से बेरोजगारों को रोजगार, प्राथमिक विद्यालय से स्नातकोत्तर तक निशुल्क शिक्षा, बिना भेदभाव के नौकरी, सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू कराना, निशुल्क स्वास्थ्य-शिक्षा और बिजली आदि।

ज्ञात हो कि पिछले दिनों ओम प्रकाश राजभर ने प्रेस कॉफ्रेंस कर बीजेपी के साथ गठबंधन के संकेत दिए थे। उन्होंने कहा था कि 27 अक्टूबर को गठबंधन की घोषणा हो जाएगी। इस दौरान बीजेपी के साथ उनकी बातचीत भी चल रही थी लेकिन अब उन्होंने अखिलेश यादव के साथ जाने का फैसला कर लिया है। इसी संबंध में राजभर ने अखिलेश के साथ मिलकर गठबंधन की बातचीत, जिसके बाद दोनों के बीच सहमति बन गई।

यह भी पढ़ेंः-शर्तों के साथ घर वापसी की तैयारी में ओमप्रकाश राजभर, चुनाव से पहले अपनों को मनाने में लगी भाजपा

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article