Om prakash rajbhar

वाराणसी। पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को लेकर राजनीतिक सियासत गर्म होती जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान करने वाले पूर्व आईपीएस अधिकारी को सुहलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने अपनी पार्टी में आने का प्रस्ताव दिया है। शनिवार को वाराणसी पहुंचे ओम प्रकाष अध्यक्ष ने भाजपा पर निशाना साधा। रोहनिया में आयोजित अति पिछड़ा-अति दलित सम्मेलन में भाग लेने से पहले सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि अमिताभ ठाकुर को खुला निमंत्रण है कि वो हमारी पार्टी में आएं। उनके आने से पार्टी की लड़ाई मजबूत होगी। अगर वो हमारे साथ आते हैं तो 2022 में चुनाव लड़ाकर विधानसभा भेज देंगे। ओम प्रकाष राजभर ने प्रदेश सरकार को निशाने पर लिया। कहा कि तीन दिन में विधानसभा सत्र खत्म करना सरकार की नाकामी है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार महंगाई पर चर्चा नही करना चाहती, कोरोना पर चर्चा नहीं करना चाहती। मानसून सत्र को तीन दिन में खत्म कर दिया।

मंत्री मंडल विस्तार को लेकर उन्हांेने नाराजगी जतायी। इसके साथ ही सुभासपा अध्यक्ष ने कहा कि 27 अक्तूबर को सुभासपा के स्थापना दिवस पर गठबंधन को लेकर घोषणा करेंगे। राजभर ने कहा कि प्रदेश में भागीदारी संकल्प मोर्चा की सरकार आएगी तो पांच साल तक घरेलू बिजली का बिल माफ करेंगे। पूरे प्रदेश में शराबबंदी करेंगे। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान संकट के बारे में कहा कि हम भारत और भारतीयों के शुभचिंतक हैं। हम अपने घर को संभाल नही पा रहे तो दूसरों के घर क्यों देखे।

भारत के लोगों को संकट से बाहर निकालना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। जनसंख्या नियंत्रण कानून के सवाल पर कहा कि घर-घर महिलाओं को शिक्षित किया जाए। इससे अपने आप जनसंख्या नियंत्रण होने लगेगा। कानून बनाने की जरूरत नहीं है। ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि देश मे कांग्रेस पार्टी विकास के मामले में नंबर वन रही है। कहा कि कांग्रेस हर वर्ग को एक साथ लेकर चलती है। कहा कि कांग्रेस ने छोटे-छोटे उद्योग को बढ़ाया था। मुख्यमंत्री योगी के बारे में कहा कि वो बहुत मेहनत करते हैं।

यह भी पढ़ेंः-सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जबरन रिटायर आईपीएस ने चुनाव लड़ने का किया ऐलान, ऐसा रहा है कॅरिअर