Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति लखनऊ

अब जिन्ना से पीछा छुड़ाने में लगी सपा, सरदार पटेल के साथ जताई ऐसी प्रतिबद्धता

लखनऊ। विधानसभा चुनाव करीब आने के साथ राजनीतिक दलों के मुखिया अपने पुराने बयानों को सुधारने मंे लग गये हैं। सरदार पटेल की जयंती पर अखिलेश यादव ने मोहम्मद अली जिन्ना का जिक्र किया था। अखिलेश यादव द्वारा जिन्ना का नाम लेना और तुलना करना विपक्ष का एक मुद्दा मिल गया। इसके बाद मोहम्मद अली जिन्ना, उत्तर प्रदेश की चुनावी चर्चा के केंद्र में आ गये। अब समाजवादी पार्टी के ऑफिशिएल न्यूजलेटर में जिन्ना पर अखिलेश के बयान से पीछा छुड़ाने की कोशिश की जा रही है। समाजवादी पार्टी को जिन्ना के नाम पर मिलना वाले फायदा से नुकसान ज्यादा दिख रहा है। उस रैली के हवाले से न्यूजलेटर में दावा किया गया है कि अखिलेश, सरदार पटेल के सपनों का भारत बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। समाजवादी पार्टी के न्यूजलेटर में पूर्व सीएम अखिलेश यादव को देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के सपनों को पूरा करने के प्रति प्रतिबद्ध है। बीते एक साल से अधिक समय से जारी किसान आंदोलन का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव को सरदार पटेल के पदचिन्हों पर चलने वाला बताया गया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राजेंद्र चौधरी  ने एक लेख में अखिलेश यादव को सरदार पटेल के आदर्शों पर चलने वाला बताते हुए कहा है कि समाजवादी पार्टी किसानों के साथ है।

न्यूजलेटर में लिखा गया है कि ‘अखिलेश, सरदार पटेल के सपनों का भारत बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 31 अक्टूबर को हरदोई में हुई रैली के संदर्भ में लिखा गया है कि ‘अखिलेश ने कहा कि हम स्वतंत्रता संग्राम में पटेल के योगदान को नहीं भूल सकते और उन्होंने जूनागढ़ और हैदराबाद सहित विभिन्न राज्यों को भारतीय संघ में शामिल कराने का ऐतिहासिक काम किया। हालांकि इसमें जिन्ना का कहीं कोई जिक्र नहीं है। अखिलेश ने इसी रैली में कथित तौर पर कहा था ‘पटेल की तरह जिन्ना भी आजादी की लड़ाई में शामिल थे। इसी न्यूजलेटर में कहा गया है कि समाजवादियों का स्वतंत्रता आंदोलन से गहरा नाता रहा है। इस न्यूजलेटर के माध्यम से जिन्ना से पीछा छुड़ाने की कोशिश की गयी है।

सपा को पटेल के सिद्धांतों पर विश्वास

न्यूजलेटर में पूर्व सीएम के करीबी राजेंद्र चैधरी ने सरदार पटेल पर एक लेख लिखा है। जिसमें कहा गया है कि अखिलेश को भारत के स्वतंत्रता संग्राम के सिद्धांतों में विश्वास है। लौह पुरुष (सरदार पटेल) के सपनों का भारत बनाने के लिए समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ लोगों के पक्ष में राजनीति करने के लिए प्रतिबद्ध और समर्पित हैं।

भाजपा के बड़े नेता एक महीने से यादव पर जुबानी हमला कर रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आजमगढ़ में कहा था कि अखिलेश ने ‘चुनाव नजदीक आते ही जिन्ना को महान व्यक्ति बताना शुरू कर दिया। अमित शाह ने कहा था ‘समाजवादी पार्टी जिन्ना, आजम खान और मुख्तार अंसारी के लिए खड़ी है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि जिन्ना को पटेल के बराबर बिठाने के लिए लोग यादव को कभी माफ नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ेंः-अखिलेश ने जिन्ना के बाद लिया कलाम का सहारा, जलियांवाला बाग से की लखीमपुर की ऐसे तुलना