Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति लखनऊ

टेनी पर कार्रवाई नहीं, सपा नेताओं पर छापेमारी कर डरा रहीं एजेंसियां : अखिलेश यादव

  • चुनाव हारने से पहले जांच एजेंसियों का भाजपा करती है इस्तेमाल

लखनऊ। सपा नेताओं पर इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी के बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव काफी तल्ख हो गये हैं। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी पर कोई एक्शन नहीं ले रही है और सपा नेताओं को डराया जा रहा है। अखिलेश ने सवाल पूछते हुए कहा कि क्या केंद्र सरकार को नहीं पता है कि अजय मिश्र पर क्या आरोप हैं? अखिलेश ने आरोप लगाया कि केंद्रीय एजेंसियों के जरिए समाजवादी पार्टी, उसके विधायकों, नेताओं और कार्यकर्ताओं को डराने का काम केंद्र सरकार कर रही है। अखिलेश यादव ने प्रेसवार्ता में कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार को अनुपयोगी है। इस सरकार से क्या ही उम्मीद की जा सकती है।

बीजेपी को सता रहा हार का डर

अखिलेश यादव ने कहा कि मैंने कई मौकों पर कहा कि जैसे-जैसे बीजेपी को हार सताएगी। यूपी में उनके दिल्ली से आने वाले नेताओं की संख्या बढ़ जाएगी। इसमें भी कोई शक नहीं था कि समाजवादी पार्टी के नेताओं को डराने के लिए आयकर विभाग, ईडी, सीबीआई का सहारा लिया जाएगा। इन संस्थाओं का सहारा इसलिए लिया जा रहा है कि कहीं सपा की सरकार न बन जाये। जहां-जहां भाजपा चुनाव हारने लगती है। इन संस्थाओं का इस्तेमाल करने लगती है। अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार नहीं बचेगी। जनता ने मन बना लिया है कि यूपी में योग्य सरकार बनेगी और योगी की सरकार अनुपयोगी है। जनता चुनाव में योगी सरकार को करारा जवाब देगी।

अजय टेनी के बहाने सरकार पर निशाना साधा

अखिलेश ने कहा कि गृह राज्य मंत्री अजय टेनी पर जो आरोप हैं, क्या दिल्ली या यूपी की सरकार नहीं जानती? जब जांच में नाम आ गया और उनके ऊपर अंगुली उठ रही है तो फिर सरकार टेनी को क्यों बचा रही है। उनके बेटे ने पीछे से किसानों को जीप से कुचल दिया, अब सरकार उसे बचा रही है। सरकार आरोपियों को बचा रही है। एसआईटी जांच के बाद टेनी को बचाया जा रहा है।

नेता को मिलने से मना किया था

अखिलेश ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) यूपी के अनुपयोगी सीएम योगी से मिलने गए थे। मैंने मना किया था कि आप मत जाइए लेकिन नेताजी राजनीति शिष्टाचार में गए तब भी उन्होंने घर खाली करा दिया। पूर्व सीएम ने कहा कि बेरंगी लोग क्या जाने जीवन में रंग क्या है? जिस गोमती रिवर फ्रंट पर लोग घूमने आते थे, योगी सरकार ने उसपर भी जांच बैठा दी है।

कन्नौज चुनाव हरवाने का आरोप लगाया

अखिलेश ने कहा कि कन्नौज पुलिस कप्तान किस जाति का था? मुख्यमंत्री आवास में बैठकर सब ने मिलकर कन्नौज में चुनाव हरा दिया। अखिलेश यादव ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि चार अधिकारी एक ही जाति के थे। उन्होंने ये काम किया था। योगी सरकार कितनी भी साजिश कर ले लेकिन समाजवादी पार्टी का रथ नहीं रूकने वाला है।

सरकार करा रही फोन टैपिंग

अखिलेश ने कहा कि हमारे सभी फोन को सुना जा रहा है। सपा कार्यालय के सारे फोन सुने जा रहे हैं। सीएम खुद शाम को कुछ रिकॉर्डिंग खुद सुन रहे हैं। आप अगर हमसे संपर्क करें तो समझ लें कि आपकी बात भी सुनी जा रही है।

ओएसडी जैनेंद्र यादव के घर आईटी की रेड जारी

अखिलेश यादव सरकार में ओएसडी रहे जैनेंद्र यादव के घर पर शनिवार सुबह से आयकर विभाग की रेड जारी है। विभाग ने जैनेंद्र यादव के घर शनिवार को छापेमारी की थी। इसके अलावा अखिलेश यादव के करीब कारोबारी राहुल भसीन और मैनपुरी में मनोज यादव के घर पर भी आयकर विभाग की टीम मौजूद है। मऊ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के घर पर करीब 15 घंटे तक आयकर विभाग की छापेमारी चली थी। अखिलेश यादव ने राजीव राय को लखनऊ बुलाया है।

यह भी पढ़ेंः-सपा नेताओं के घर कार्रवाई, 15 घंटे की छापेमारी में इनकम टैक्स विभाग को मिले 17 हजार