नितिन गडकरी ने किया बड़ा ऐलान, दिल्ली से लखनऊ को जोड़ेगा नया एक्सप्रेस वे

नितिन गडकरी ने कहा कि पांच साल के अंदर यूपी के रोड अमेरिकन और यूरोपियन स्टैंडर्ड के बनेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली से लखनऊ को जोड़ने वाले एक्सप्रेस वे के लिए 10 से 12 दिन के अंदर भूमि पूजन होगा।

0
406
nitin gadkari

गाजियाबाद। विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में लगातार सौगातों की बारिश हो रही है। केन्द्र और उत्तर प्रदेश सरकार योजनाओं की घोषणा औ शिलान्यास कर रही है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली से लखनऊ को जोड़ने वाले नए एक्सप्रेस वे का ऐलान किया है। नितिन गडकरी ने कहा कि दिल्ली से लखनऊ को जोड़ने वाले एक्सप्रेस वे के लिए अगले 10 से 12 दिन के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भूमि पूजन होगा। उन्होंने कहा कि वीके सिंह के आग्रह और फालोअप की वजह से दिल्ली से लखनऊ जोड़ने का निर्णय लिया है। यह प्रोजेक्ट उत्तर प्रदेश को त्वरित विकास देगा।

Nitin Gadkari

नितिन गडकरी ने बताया कि दिल्ली से लखनऊ को जोड़ने वाला यह एक्सप्रेसवे 2 चरणों में बनेगा। दिल्ली और लखनऊ की दूरी साढ़े 3 घंटे में पूरी की जा सकेगी। नितिन गडकरी ने कहा कि पांच साल के अंदर यूपी के रोड अमेरिकन और यूरोपियन स्टैंडर्ड के बनेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली से लखनऊ को जोड़ने वाले एक्सप्रेस वे के लिए 10 से 12 दिन के अंदर भूमि पूजन होगा। यह एक्सप्रेसवे लखनऊ से कानपुर और कानपुर से गाजियाबाद को जोड़ेगा। उसके बाद दिल्ली से जुड़ेगा। उन्होंने कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में 10 से 12 दिन के अंदर भूमिपूजन होगा।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने डासना में इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम कंट्रोल रूम बिल्डिंग का शुभारंभ करने के दौरान यह ऐलान किया। उन्होंने कहा कि यह टेक्नोलॉजी बहुत जरूरी है। इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम कंट्रोल रूम का उद्घाटन कर नितिन गडकरी ने कहा कि यह जापान और जायका के सहयोग से बना है। ज्ञात हो कि डासना में इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम कंट्रोल रूम बिल्डिंग, दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे पर यातायात से जुड़ी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए बनाई गई है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 1.5 लाख करोड़ से ज्यादा का काम कर दिया है और अभी 1.5 लाख करोड़ का काम चल रहा है। जिसमें से 1 लाख करोड़ को मंजूरी दे दी है। उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार आ रही है। उत्तर प्रदेश में योगी की सरकार आने से उत्तर प्रदेश में इंडस्ट्री आएगी। उन्होंने कहा कि कानपुर से लखनऊ एक्सप्रेसवे बनने के बाद दूरी बहुत घट जाएगी। महज 40 मिनट में कानपुर से लखनऊ या लखनऊ से कानपुर जाया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः-करोड़ों की लागत से यूपी में बनेगा गंगा एक्सप्रेसवे, 12 जिलों की 30 तहसीलों से होकर गुजरेगा रास्ता