pm modi
  • राजा महेंद्र प्रताप सिंह का जीवन युवाओं के लिए प्रेरणादायक है : पीएम
  • पीएम मोदी ने किया राजा महेन्द्र सिंह राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास
  • राजा महेन्द्र प्रताप के जीवन का एक-एक पल राष्ट्र को था समर्पित था

अलीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय का बटन दबाकर शिलान्यास किया। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद रहीं। शिलान्यास के अवसर पर विश्वविद्यालय पर बनाई गई फिल्म दिखााई गई। फिल्म में राजा महेंद्र प्रताप के संक्षिप्त इतिहास के साथ ही शिक्षा के गुणवत्ता के बारे में भी बताया गया है। विश्वविद्यालय डिफेंस से सम्बंधित पढ़ाई भी करायी जायेगी। जाट राजा महेंद्र प्रताप स्टेट यूनिवर्सिटी और डिफेन्स कॉरिडोर के शिलान्यास के बाद विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत की आजादी दिलाने में ऐसे कई राष्ट्रनायक और राष्ट्रनायिकाओं का योगदान रहा जिसके बारे में कई पीढ़ियों को जानने और पढ़ने का मौका नहीं मिला। उनका देश से परिचय ही नहीं करवाया गया। आज आजादी के 75वें साल में 20वीं सदी में हुई इस गलती को आज 21वीं सदी का भारत सुधार रहा है।

modi aligarah

प्रधानमंत्री ने राज महेंद्र प्रताप सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि आज युवाओं को उन्हें जरूर पढ़ना चाहिए। राजा महेंद्र प्रताप सिंह का जीवन युवाओं के लिए प्रेरणादायक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राधाष्टमी की शुभकामनाओं के साथ की। उन्होंने कहा कि आज इस अवसर पर मैं हमारे श्रद्धेय कल्याण सिंह जी की कमी बहुत हो रही है। वो होते तो अलग अनुभव होता। आजादी के आंदोलन में कई महान व्यक्तित्व ने सब कुछ खपा दिया लेकिन देश का दुर्भाग्य रहा कि ऐसे राष्ट्रनायकों और राष्ट्रनायिकाओं को अगली पीढ़ी से परिचित ही नहीं करवाया गया। बीसवीं सदी की गलतियों को आज 21वीं सदी का नया भारत सुधार रहा है। नई पीढ़ी को उन राष्ट्रनायकों को परिचित करवाकर नया प्रयास कर रहा है। आज आजादी के अमृत महोत्सव के माध्यम से इसे प्रयास किया जा रहा है।

युवाओं से की ये अपील

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश के हर उस युवा को जो बड़े लक्ष्य पाना चाहता है, उसे राजा महेंद्र प्रताप सिंह के बारे में अवश्य जानना और पढ़ना चाहिए। राजा महेंद्र प्रताप सिंह जी के माध्यम से कुछ भी कर गुजरने की जीवटता सीखने का अवसर मिलता है। उन्होंने सिर्फ भारत मे ही लोगों को प्रेरित ही नहीं किया बल्कि दुनिया के कोने कोने में गए. अफगानिस्तान, पोलैंड, दक्षिण अफ्रीका तक गये। अपने जीवन के अंतिम क्षण तक भारत को आजादी दिलाने के लिए लगातार सक्रिय रहे। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं युवाओं से कहना चाहता हूं कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह जी को जरूर पढ़ें, उनका जीवन हम सब को आज भी प्रेरणा देता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज मुझे देश के एक और स्वतंत्रता सेनानी गुजरात के श्यामजी कृष्ण वर्मा जी का स्मरण हो रहा है. उनके प्रयासों से ही हमे अफगानिस्तान में पहली निर्वासित सरकार बनाने का अवसर मिला और राजा महेंद्र प्रताप सिंह के ही नेतृत्व में मिला। इससे पहले उत्तर प्रदेश को नायाब तोहफा देने अलीगढ़ पहुंचे पीएम नरेन्द्र मोदी का सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंच पर अंगवस्त्र और स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया। पीएम मोदी ने भी इस मौके पर सभी का अभिनंदन किया।

modi yogi

सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी के स्वागत में अपने संबोधन की शुरुआत वृंदावन बिहारी लाल की जयकारे से शुरुआत की। उन्होंने कहा कि यहां आए भारी संख्या में लोगों का आभार व्यक्त करता हूं। आज राधा अष्ठमी है। यह ब्रज का खास त्योहार है। आज देश के सबसे बड़े नेता पीएम मोदी आर्शीवाद देने के लिए ब्रज क्षेत्र में आएं है। हम सभी उनका आभार व्यक्त करते हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब पूरी दुनिया कोरोना से परेशान है। इस समय में देश को जीवन व अन्य काम को सुचारू रखने का कार्य रहा हो। कोरोना से बचाने के लिए दो स्वदेशी वैक्सीन को 75 करोड़ लोगों को लाभ दिया गया। पीएम मोदी के कोरोना में कार्य पूरी दुनिया मे मिशाल बन गया है। सीएम ने कहा कि पीएम के मार्गदर्शन में 2017 में भाजपा की सरकार बनी। पीएम ने प्रदेश के पहले इन्वेस्टर्स समिट का शुरुआत की आज उसी का परिणाम है। हम इतने आगे हैं, करोड़ों का निवेश हुआ है। लोगों को रोजगार मिलेंगे। उस समय पीएम मोदी ने डिफेंस कॉरिडोर का तोहफा दिया था। अब पीएम इसके कार्य के लिए स्वयं यहां आएं हैं। वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट में भी बहुत काम हुए।

राजा के सम्मान में विश्वविद्यालय की सौगात

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी में देश का मार्गदर्शन करने वाले राजा महेंद्र प्रताप को पश्चिमी यूपी में कोई याद नहीं करता। अब राजा के संम्मान में राजा महेंद्र प्रताप विश्वविघालय की सौगात मिल रही है। राधा अष्ठमी के मौके पर डिफेंस कॉरिडोर व विश्वविद्यालय सोने पर सुहागा है। सहारनपुर में भी एक विश्वविद्यालय प्रस्तावित है। उन्होंने कहा कि ओलंपिक में भारतीय खिलाडियों ने शानदार प्रदर्शन किया। अब मेरठ में स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय बन रहा है। यह विश्वविद्यालय मेजर ध्यानचंद के नाम पर होगा। प्रयागराज में भी एक विश्वविद्यालय बन रहा है। नई शिक्षा नीति को लागू किया जा रहा है। पीएम मोदी ने 2013 में जो मंत्र दिया था कि सबका साथ ओर सबका विकास के साथ सरकार आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि 2017 से पहले गन्ना किसानों का भुगतान तक नहीं हुआ। 2017 के बाद इससे ज्यादा भुगतान हुआ। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कार्य किया जा रहा है। कोरोना काल मे भी चीनी मिल अनवरत चलती रहीं।

आज गौरव का दिन : दिनेश शर्मा

डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि आज यह गौरव का दिन है। पीएम शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा प्रोजेक्ट देने आए हैं। आज का दिन पश्चिमी यूपी के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। डिप्टी सीएम ने कहा कि प्रदेश में अब नकल नहीं, अक्ल से छात्रों के जीवन संवर रहा है। उत्तर प्रदेष सरकार नकल विहीन परीक्षा करा रही है। पाठ्यक्रम बदला गया है। रोजगार परख कोर्स शामिल किए गए। प्रदेश में अब नई यूनिवर्सिटी बन रही है। दस विश्वविद्यालयों का काम चल रहा है। आज हिंदी दिवस है। हिंदी क्षेत्र के नए पाठ्यक्रम शामिल किए गए। संस्कृति क्षेत्र में भी बदलाव हुए हैं। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व नकल विहीन परीक्षा हमेशा से ही हमारी प्राथमिकता रहीं है। उन्होंने कहा कि यह कल्याण सिंह की भूमि है। राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम से बड़ा प्रोजेक्ट है। डिफेंस कारीडोर से भी विकास होगा। युवाओं को शिक्षा के साथ रोजगार भी मिलेंगे।

राज्य विश्वविद्यालय के माडल का किया अवलोकन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अलीगढ़ पहंुचने के साथ ही सबसे पहले राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के माडल का अवलोकन किया। विश्वविद्यालय को माॅडल देखेे जाने के दौरान राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, सीएम योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा भी थे। इससे पहले बड़ी सौगात देने अलीगढ़ पहुंचे पीएम नरेन्द्र मोदी का हवाई पट्टी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने स्वागत किया। कार्यक्रम स्थल पर बने मंच पर सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डाक्टर दिनेश शर्मा, प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह के साथ भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह भी थे।

यह भी पढ़ेंः-अलीगढ़ से पीएम मोदी करेंगे विधानसभा चुनाव का शंखनाद, स्टेट यूनिवर्सिटी की रखेंगे आधारशिला