मुस्लिम समुदाय ने तैयार किया चार क्विंटल का मोदक, लगेगा पहला भोग

0
664
ganesh-mela

चंदौसी में हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल कायम करते है। यहां मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा गणेश चुतर्थी के मौके पर चार क्विंटल के मोदक का भोग गणपति बप्पा के मंदिर में ले जाया गया। इसी मोदक से गणेश रथ यात्रा शुरू होने से पहले बप्पा का भोग लगाया जाता है। चंदौसी में एक मेला कमेटी है जिसका नाम हिंदू-मुस्लिम भाईचारा कमेटी है।

तो वहीं हर बार मेला कमेटी के हिंदू पदाधिकारियों द्वारा खान बाबा की मजार पर चादरपोशी की जाती है। यहां किसी भी धर्म का कार्यक्रम हो हमेशा हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोग मिलकर इन्हें सफल बनाते हैं। इस बार भी गणेश चतर्थी के मौके पर मुस्लिम समुदाय के लोग श्री गणेश के लिए मनपसंद मोदक तैयार करते हैं। परंपरा को कायम रखते हुए हिंदू-मुस्लिम भाईचारा कमेटी में लाल मोहम्मद शास्त्री, हाजी इस्तियाक बेग, वेद अरोरा, हरीश अरोरा, घनश्याम अरोरा, महेंद्र वर्मा, रविंद्र यादव सहित अन्य लोगों ने चार क्विंटल का मोदक तैयार किया है।

कमेटी के सदस्य रथयात्रा शुरु होने से पहले श्री गणेश का प्रिय भोग मोदक बनाकर ढोल नगाड़ो के साथ गणेश मंदिर ले गए है। और मोदक का भोग लगाया गया। 19 सितंबर को गणेश मेला परिषद के पदाधिकारी और मेला संरक्षक डा. गिरिराज किशोर आदि अर्सउल्ला खान बाबा की मजार पर चादरपोशी करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here