लखीमपुर में सगी दो बहनों के रेप और हत्या की दर्दनाक घटना में मां ने बताई सच्चाई कहा,’मेरे सामने से बेटियों को अगवा …’

पीड़िता की मां ने अपनी जुबानी बताई है। उनके सामने जो घटना हुई है उसकी पूरी सच्चाई उन्होंने बताई है। पीड़िता की मां ने कहा है कि तीन युवक एक बाइक से आए और बेटियों को जबरदस्ती अपहरण करके ले गए।

0
249
Lakhimpur case

Lakhimpur khiri Dalit Sisters case : उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जिससे हर इंसान के आंखों में आंसू आ जाएंगे। यूपी के लखीमपुर में दो नाबालिग दलित बहनों की लाश मिली है। बहनों की लाश पेड़ से लटकती मिली है और मां ने इस पर बहुत बड़ा गंभीर आरोप लगाया है। दरअसल आपको बता दें उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में दो सगी दलित बहनों की लाश पेड़ में लटकती मिली हुई है। घटनास्थल की जानकारी पुलिस को दी गई है जहां पर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है ‌। दरअसल यह मामला लखीमपुर के निघासन कोतवाली का है जहां पर एक गांव के बाहर दो किशोरियों की लाश गन्ने के खेत में मिली है। दोनों ही की किशोरिया नाबालिक थी। इस हत्याकांड के बाद मां ने बहुत बड़ा खुलासा किया है मां ने दर्द बयां करते हुए घटना की पूरी जानकारी बताई है।

मेरे सामने से बेटियों को अगवा करके ले गए थे

वही आपको बता दें पीड़िता की मां ने अपनी जुबानी बताई है। उनके सामने जो घटना हुई है उसकी पूरी सच्चाई उन्होंने बताई है। पीड़िता की मां ने कहा है कि तीन युवक एक बाइक से आए और बेटियों को जबरदस्ती अपहरण करके ले गए। अपहरण के बाद उन्होंने दुष्कर्म किया जिसके बाद उनकी दोनों ही बेटियों को मौत के घाट उतार दिया। उन्होंने बताया है कि लड़के लालपुर के रहने वाले हैं। एक पीली बनियान में था और दूसरी उजली बनियान में था तीसरा नीली बनियान पहने हुए बाइक चला रहा था। जब वह मेरी बेटी को अगवा करके ले गए तो मैं उनके पीछे दौड़ी लेकिन मैं अपनी बेटी को बचा नहीं पाई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद होगा खुलासा

इधर लखीमपुर डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने बातचीत के दौरान बताया है कि इस घटना को लेकर फोन पर जानकारी दी गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हत्या की वजह पता चलेंगी। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। वहीं जांच अधिकारी लखनऊ रेंज के आईजी लक्ष्मी सिंह कर रही है उन्होंने कहा है कि लखीमपुर खीरी के गांव में बाहर के अपने दो बच्चों के शव पेड़ से लटकते मिले हैं । हालाकी सड़कों पर किसी प्रकार के चोट के निशान नहीं मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पूरी सच्चाई पता चलेगी। वही आपको बता दे दो दलित बहनों के इस हत्याकांड में राजनीतिक माहौल भी गरमा गया है। इस घटना से पूरे क्षेत्र में मातम पसरा हुआ है। ‌

 

Read More-लखीमपुर कांड पर बोले सीएम योगी, बिना सबूत के नहीं करेंगे गिरफ्तारी, हाईकोर्ट का दिया हवाला