हत्या कर भाग रहे बदमाश पर फूटा भीड़ का गुस्सा, लाठी-डंडो से दी दर्दनाक मौत, इलाके में दहशत!

298

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में इन दिनों मॉबलिंचिंग के मामले ने पूरे इलाके में दहशत का माहौल बना दिया है। दरअसल सोमवार को एक अज्ञात बदमाश ने घर में सो रहे युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। जैसे ही गोलियों की आवाज तड़तड़ाई आस-पास के लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। स्थानीय लोगों ने देखा कि एक बदमाश ने रामपुर बंगरा निवासी सुधीर सिंह पुत्र मोहर सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद बदमाश घर की छत पर खड़ा होकर हवाई फायरिंग करने लगा। इतने में सभी ग्रामीणों ने उसे घर की छत से लेकर नीचे तक घेर लिया। किसी ने घटना की जानकारी पुलिस को दे दी, मौके पर पहुंची पुलिस ने बदमाश को हिरासत में ले लिया। लेकिन बदमाश ने बंदूक ग्रामीणों पर ही तान दी। आस-पास अफरा-तफरी का माहौल बन गया। ऐसे में पुलिस प्रशासन ने खूब रोकने का प्रयास किया लेकिन बदमाश ने तमंचे के दम पर गोली मारने की धमकी दी। बदमाश की इन हरकतों को देखते हुए गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस कस्टडी से छुड़ाकर बदमाश पर लाठी-डंडों से वार करना शुरू कर दिया। इस दौरान बदमाश की मौके पर ही मौत हो गई।

ये भी पढ़ें:-आगरा पुलिस को चकमा देते रहे बदमाश, बस हाईजैक का मास्टरमाइंड निकला..

बताया जा रहा है कि, तरयासुजान थाना क्षेत्र के रामपुर बंगरा में सोमवार की सुबह घर में सो रहे व्यक्ति की एक स्कूटी सवार बदमाश ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद बदमाश इलाके में हवाई फायरिंग करने लगा। आस-पास के ग्रामीणों के पूछने पर उन्हें भी गोली मारने की बात करने लगा। घटना की जानकारी के बाद ग्रामीण लाठी-डंडा लेकर हमलावर की घेराबंदी करके पुलिस को सूचना दी. ग्रामीणों का आरोप है कि सूचना के बावजूद पुलिस लगभग डेढ़ घंटे की देरी से मौके पर पहुंची।

जैसे ही हमलावर ने आत्मसमर्पण किया तो ग्रामीणों ने उसे पुलिस से छुड़ा कर लाठी-डंडे से पीटकर मौत के घाट उतार दिया. पुलिस बेबस खड़ी मूकदर्शक बनी रही। बताया जा रहा है कि जिस व्यक्ति को बदमाश ने गोली मारी है वह रामपुर बंगरा निवासी सुधीर सिंह पुत्र मोहर सिंह थे जो सीमावर्ती बिहार प्रान्त में शिक्षक थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पुलिस को देखकर हमलावर दोनों हाथ ऊपर उठाकर आत्मसमर्पण करने की कोशिश करने लगा, लेकिन तभी गुस्साई भीड़ हमलावर पर टूट पड़ी.

पूरे मामले पर एसपी विनोद कुमार मिश्र ने बताया कि यह जांच का विषय है, कौन किसकी गलती थी, जांच के बाद ही पता चल पाएगा। जिस किसी ने भी कानून को हाथ में लेने की कोशिश की उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी ग्रामीणों के आक्रोश के मद्देनजर मौके पर पुलिस व ग्रामीणों के बीच संघर्ष की स्थिति बनी हुई है।

ये भी पढ़ें:-योगी सरकार की अनूठी पहल, गाय पालने वालों को हर महीने दिए जाएंगे इतने रुपए