Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति लखनऊ

BJP, सपा और कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, सत्ता में आने के बाद भूल जाते हैं जनता से किये वादे

लखनऊ। विधानसभा चुनाव करीब आने के साथ ही राजनीतिक दलों को जनता दरबार की याद आती है। जनता और मतों को लक्ष्य कर बयानबाजी तेज हो जाती है। उत्तर प्रदेश में सियासी बयानबाजी की फसल तेज हो चुकी है। उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव को लेकर बेहद गंभीर बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती समय≤ पर विपक्षी दलों पर हमला बोलती रहती हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने विधानसभा चुनाव को लेकर विपक्षी दलों के वादों को लेकर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि सपा, भाजपा और कांग्रेस चुनाव के बाद जनता को भूल जाती है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने शुक्रवार को दो ट्वीट में भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी तथा कांग्रेस पर निशाना साधा है।

mayawati akhilesh yogi

मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में खासकर भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी तथा कांग्रेस आदि इन दिनों प्रदेश की जनता को लुभाने व गुमराह करने के लिए आए दिन प्रलोभन भरे जो चुनावी वादों की झड़ी लगा रहे हैं। जनता को गुमराह करने वाले वादे किये जा रहे हैं। जनता को प्रलोभन दे कर चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश हो रही है। मायावती ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के लोग वादा करने के बाद सत्ता में आने के पर अधिकांश को भुला देते हैं। चुनाव के बाद इन दलों को जनता याद नहीं आती है। अभी तक का इनका यही इतिहास रहा है।

priyanka gandhi pc

मायावती ने जनता का आह्वान करते हुए इन दलों से सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा व सपा जनता को जो वादे कर रही हैं वह काम उन्होंने यहां अपनी सरकार के रहते हुए क्यों नहीं किए। जब चुनाव आते हैं तो वादे कर दिये जाते हैं, फिर ये राजनीतिक दल जनता को भूल जाते हैं। मायावती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी भी महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट व स्कूटी आदि देने के जो वादे कर रही है वह काम इन्होंने उन राज्यों में क्यों नही किए जहाँ इनकी सरकारें हैं। यह भी सोचने की बात है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को पंजाब, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी यूपी वाले वादे को पूरा करे। कांग्रेस को अपने शासित राज्यों में ध्यान देने की जरूरत है।

यह भी पढ़ेंःमोदी और अमित शाह ही सम्भालेंगे UP विधानसभा चुनाव की कमान, BJP कोर ग्रुप की ऐसी है तैयारी