घर से बिना मास्क के बाहर निकलने वालों की अब खैर नहीं, UP सरकार का बड़ा कदम 

27

कोरोना के खौफ के बीच चौतरफा अब नियमों की बयार बह रही है। कुछ रियायतों के साथ रवायतों को भी ताक पर रखने का सिलसिला शुरू हो चला है। खैर, अब जिंदगी को पटरी पर लाने के लिए इन रवायतों को ताक पर रखना जरूरी है। जरूरी है कि अब जिदगी को खुशगवार बनाने के लिए इन रवायतों को परे ही कर दिया जाए। इस जंग में फतह पाने के लिए अब इन रवायतों की कुर्बानी जरूरी बन गई है। उधर, अब कोरोना के इस खौफ के अब कुछ नए नियम भी वजूद में आए हैं। मसलन, सोशल  डिस्टेंसिंग का पालन करना, घरों सेे बाहर निकलते समय मास्क का लगाना, सार्वजनिक जगहों पर थूकने पर अब पाबंदी लगा दी गई है। स्वास्थ्य दिशानिर्देशों के मुताबिक, लोगों से अब अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान रखने की अपील का जा रही है। ये भी पढ़े :WHO के बड़े संकेत, इस महीने खत्म हो जाएगा कोरोना! क्योंकि..

इसके साथ ही लोग अब इन नियमों का सख्ती से पालन कर सके इस दिशा में लगताार प्रयास किए जा रहे हैं। सरकार अब इन नियमों के ऊपर भी कुछ नियम ला रही है। वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने इन उक्त नियमों का उल्लंघन करने पर अब जुर्माने का प्रवाधान किया है। प्रदेश सरकार बगैर मास्क लगाए बाहर जाने पर जुर्माने की राशि वसूल करेगी। बगैर मास्क के बाहर जाने पर प्रदेश सरकार ने 100 रूपए के जुर्माने का प्रावधान किया है। वहीं, अगर फिर से इन नियमों की पुनरावृत्ति होती है तो फिर जुर्माने की राशि को बढ़ाकर 500 रूपए कर दिया जाएगा। इस संदर्भ में विस्तृत जानकारी देते हुए मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने कहा कि “उत्तर प्रदेश में मास्क पहनना अनिवार्य है। पुलिस (UP Police) को सख्त निर्देश दिए गए हैं, जो भी मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं, उनका चालान किया जाए।”

राज्य में कोरोना की स्थिति 
वहीं, अगर राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति की बात करें तो प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 4 लाख 17 हजार 437 पर पहुंच चुकी है। प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 45024 पर पहुंच चुकी है। उधर,  इस वायरस से अब तक 6092 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। उधर, इस वायरस को मात दे चुके लोगों की संख्या की बात करें तो 3 लाख 66 हजार 321 पर पहुंच चुकी है। ये भी पढ़े :रिपोर्ट: कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं होंगे बच्चें, ये खास इम्यून सिस्टम कर रहा है उनकी सुरक्षा