उन्नाव मामले का खुलासा, एकतरफा प्यार में दो किशोरियों की हत्या को दिया था अंजाम

police asoha 1

उन्नाव। असोहा में दो किशोरियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत और एक की हालत गंभीर के मामले का खुलासा हो गया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आईजी लक्ष्मी सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि दो किशोरियों की हत्या मामले में गांव के दो लड़के थे। दोनों लड़कों को लड़कियां जानती थीं। लड़कों ने लड़कियों को गेंहू में रखने वाली दवा तीनो को खिलाई थी। सूत्रों की माने तो दोनों बेहोशी की हालत में लड़कियों से शारीरिक सम्बन्ध बनाना चाहते थे। लड़कों ने पहले लड़कियों को नमकीन खिलाया फिर पानी की बोतल में कीटनाशक दवा पिला दिया। पुलिस ने बताया कि विनय, राजू ने इकतरफा प्यार में वारदात को अंजाम दिया। असोहा पाठक पुर के निवासी एक लड़का नाबालिग है। लॉकडाउन के समय से लड़कियों से परिचय हुआ था। लड़कियों ने विनय के साथ ही नमकीन खाया था। विनय लड़की का मोबाइल नम्बर चाहता था लेकिन लड़की ने नंबर देने से इनकार कर दिया था। वारदात के दिन काफी देर सभी खेत में बातचीत करने के बाद विनय ने पानी की बोतल में जहर मिला कर दिया था। विनय ने और दो लड़कियों को पानी पीने से मना किया लेकिन लड़कियों ने पानी की बोतल छीन कर पानी पी लिया जिस पर तीनों लड़कियां बेहोश हो गई। आइजी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि मुखबिर,की सूचना पर पाठकपुरा चैराहे से दोनों को गिरफ्तार किया गया है। आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह व पुलिस अधीक्षक उन्नाव आनंद कुलकर्णी व उनकी टीम की कड़ी मेहनत का नतीजा है कि दो किशोरियों की हत्या का खुलासा कर दिया।

यह भी पढ़ेंः-

मुख्य आरोपी विनय ने जुर्म कबूल लिया है। एक नाबालिग आरोपी में घटना के समय उसके साथ था। सीडीआर रिपोर्ट में विनय के घटनास्थल पर होने की पुष्टि हुई है। असोहा थाना क्षेत्र के बिरहा गांव में हुई घटना में उन्नाव जिला अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया की पीड़िता के इलाज में जो खर्च हो रहा है उसको मुख्यमंत्री राहत कोष से किया जाएगा। इसके अलावा उसे 200000 सहायता राशि भी दी जाएगी बाकी उनके पूरे परिवार का ध्यान दिया जाएगा। परिजनों को भी 5- 5 लाख सहायता राशि दी जाएगी।आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने बताया कि 17 तारीख को थाना असोहा के बबुरहा गांव में पुलिस को सूचना प्राप्त हुई थी कि दो बच्चियां संदिग्ध अवस्था में अचेत मिली हैं और एक बच्ची की सांस चल रही है।

मौके पर पुलिस ने पहुंचकर उन्हें तत्काल अस्पताल भेजा था और वहां से दो लड़कियों को सीएससी में मृत घोषित कर दी की थी। एक बच्ची की सांस चल रही थी जिसे रीजेंसी भेजा गया था। इस घटनाक्रम के परिपेक्ष में शुक्रवार को गांव के एक मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई थी कि दो व्यक्तियों को घटना के दिन घटना के समय खेतों में से दौड़ते हुए देखा गया था इस मुखबिर की सूचना के आधार पर दो व्यक्तियों को पाठक पुर चैराहे से कस्टडी में लिया गया था। एक का नाम विनय उर्फ लंबू है और दूसरा उसका सहयोगी जो कि नाबालिग है ।

यह भी पढ़ेंः-उन्नाव में चढ़ा सियासी रंग, पूर्व सांसद को विधायक समर्थकों ने खदेड़ा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *