Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति लखनऊ

संस्कृत विद्यालयों का पैसा कब्रिस्तान को को दे दिया…, CM योगी का विपक्ष पर करारा हमला

लखनऊ आगरा। विधानसभा चुनाव को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश में लगातार सभायें हो रही हैं। सीएम योगी ने आगरा के तीर्थ स्थल बटेश्वर पहुंचे थे। इस मौके पर सीएम ने बटेश्वर धाम में 230 करोड़ की विकास योजनाओं का शिलान्यास किया. 11 योजनाओं का लोकार्पण किया। योगी आदित्यनाथ ने अटल बिहारी वाजपेयी का स्मरण किया और फिर विपक्ष पर एक तीर से कई निशाने साधे। सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने पिछली सरकार पर आरोप लगाया कि उन्होंने संस्कृत विद्यालयों का पैसा कब्रिस्तान को को दे दिया।

कानपुर रेड पर योगी का तंज

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ब्राह्मण हमारे लिए पूजनीय हैं। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत अटल जी की पंक्तियों के साथ की। उन्होंने कहा कि छोटे मन से कोई बड़ा नही होता, टूटे मन से कोई खड़ा नही होता। गरीबों के लिए संचालित अधिकांश योजनाए अटल जी की देन हैं। इस दौरान उन्होंने विरोधी दल पर निशाना साधा और कहा कि जो लोग पांच साल से सत्ता से दूर हैं, उन लोगों के घर से 200 करोड़ रुपये बरामद हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह गरीबों के पैसे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन सियासी दलों ने सत्ता का दुरुपयोग किया है। संस्कृत विद्यालय का रुपया कब्रिस्तान में दे दिया। पिछली सरकार गरीबों का हक हड़प जाती थी। आज सुशासन दिवस है लेकिन सारे काम छोड़कर बटेश्वर धाम आया हूं। केंद्र और प्रदेश सरकार ने अटल जी के नाम पर कई योजनाएं संचालित कर रखी हैं। कमिश्नरी में आवासीय विद्यालय बनाये जा रहे हैं। अटल जी के नाम पर 44 विद्यालय स्थपित कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने बटेश्वर धाम में अटल म्यूजियम के निर्माण की घोषणा भी की.

बीजेपी 325 का लक्ष्य प्राप्त करेगी

सीएम योगी ने गाजियाबाद में कहा कि बीजेपी की सरकार भारी बहुमत के साथ बनने जा रही है। पिछले पांच सालों में यूपी का बेहतरीन विकास हुआ है। इस डबल इंजन वाली सरकार ने काफी काम किया है। अब हम उसी काम के दम पर जनता के बीच आशीर्वाद लेने जा रहे हैं। विधानसभा चुनाव में बीजेपी 325 का लक्ष्य प्राप्त करेगी। जब सीएम से लखीमपुर हिंसा और टेनी के इस्तीफा पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसे विपक्ष की गंदी राजनीति बता दिया। उनकी माने तो विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है, ऐसे में नकारात्मक राजनीति कर रही है। वे मानते हैं कि उनकी सरकार ने इस घटना में तर्कसंगत कार्रवाई की है।

यह भी पढ़ेंः-योगी ने छात्र-छात्राओं को दिये टैबलेट और स्मार्टफोन, युवाओं के जीवन से खिलावाड़ करने वाला जाएगा जेल