Categories
उत्तर प्रदेश लखनऊ

PM मोदी की 9 जनवरी को प्रस्तावित रैली टली, कोरोना और बारिश ने बढ़ाया संकट

लखनऊ /नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 9 जनवरी को होने वाली रैली टल गई है। मौसम विभाग ने 8-9 जनवरी को लखनऊ में बारिश की आशंका जताई है, ऐसे में बारिश की संभावना को देखते हुए रैली रद करने का निर्णय लिया गया है। उत्तर प्रदेश और राजधानी लखनऊ में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते रैली को रद करने का फैसला किया गया है। बीजेपी यूपी का कहना है कि पार्टी ने लखनऊ में 9 जनवरी को प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का प्रस्ताव रखा था। आधिकारिक तौर पर यह कार्यक्रम तय नहीं हुआ था। ऐसे में जब कार्यक्रम तय नहीं हुआ, तो रद की बात ही नहीं है। बताया जा रहा है कि 8-9 जनवरी को लखनऊ में मौसम विभाग ने बारिश की संभावना जताई है। इस कारण पीएम का कार्यक्रम नहीं हो पा रहा है।

पीएम मोदी ने 1 महीने में की 8 रैलियां

यूपी में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी लगातार रैलियां कर रहे हैं। उन्होंने राज्य में 10 से अधिक रैलियां कीं हैं। पीएम मोदी 2 जनवरी को मेरठ पहुंचे थे. यहां पीएम मोदी ने मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया। इससे पहले पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश में 11,000 करोड़ रुपये की कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के पहले खंड का उद्घाटन किया था। पीएम मोदी ने वाराणसी में काशी कॉरिडोर, वाराणसी में ही बनास डेयरी, प्रयागराज में कई योजनाओं, गोरखपुर में खाद कारखाना, बहराइच में बांध और नहर परियोजना, एक्सप्रेस वे समेत तमाम बड़े प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और आधारशिला रखी थी।

यूपी में बढ़े कोरोना के मामले

उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर तेजी से जारी है। पिछले 24 घंटे में यूपी में कोरोना के 992 नए मामले सामने आने के साथ ही कोरोना को लेकर राज्य सरकार सतर्क हो गयी है। मेदांता अस्पताल में एक साथ 44 कर्मचारी संक्रमित मिले हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार नई गाइडलाइन जारी की है। सरकार ने नाइट कर्फ्यू से लेकर स्कूल बंद तक कई अहम फैसले ले लिए हैं। माघ मेले में जांच के बाद ही प्रवेश होगा। भीड़, बाजारों और कार्यक्रमों के लिए सख्ती की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः-YOGI ने अखिलेश पर साधा निशाना, ‘बबुआ’ को ‘कब्रिस्तान’ बनाने से फुरसत होती तब न राम मंदिर बनाते