Monday, December 6, 2021

मोदी और अमित शाह ही सम्भालेंगे UP विधानसभा चुनाव की कमान, BJP कोर ग्रुप की ऐसी है तैयारी

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा की सियासी हलचल लगातार बढ़ती जा रही है। राजनीतिक दल एक-दूसरे के दलों में सेंध लगाने के साथ तेजी से दलबदल करा रहे हैं। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनाव 2022 में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और सांस्कृतिक उत्थान के संकल्पों के साथ जनता के बीच जाएगी। केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों के साथ ही पार्टी धर्मध्वजा को भी उठाए रखेगी। योगी और मोदी दोनों के काम बताकर जनता से वोट मांगेगी। राज्य की कानून व्यवस्था भी पार्टी का प्रमुख चुनावी हथियार होगा। भाजपा कोर ग्रुप की करीब तीन घंटे चली बैठक में इस तरह के तमाम मुद्दों पर गहन मंथन व विमर्श किया गया है। यूपी में विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर भारतीय जनता पार्टी कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। चुनाव की कमान पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह के हाथ होगा। इस बात पर भी चर्चा हुई कि पार्टी के जो पदाधिकारी चुनाव लड़ना चाहेंगे उन्हें अपना पद छोड़ना होगा। पद पर रहते हुए चुनाव नहीं लड़ाया जाएगा। पार्टी केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को राज्य के एक-एक व्यक्ति तक लेकर जाएगी। बूथ और व्यक्ति स्तर पर भाजपा कार्यककर्ता उपलब्धियों को बतायेगा। इसके साथ ही पार्टी अपने हिन्दुत्ववादी छवि को भी चुनाव में बनाए रखेगी। भारतीय जनता पार्टी का मानना है कि हिन्दुत्ववादी छवि ही पहचान है।

- Advertisement -

amit shah

सोमवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में बैठक रात करीब नौ बजे से शुरू हुई, जो रात 12.10 बजे समाप्त हुई। बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, प्रदेश महामंत्री संगठन बीएल संतोष, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा. दिनेश शर्मा, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल, प्रदेश सह संगठन मंत्री कर्मवीर उपस्थित रहे।

बैठक के दौरान 2022 के चुनावी एजेंडों पर मंथन किए जाने की बात कही जा रही है। चुनाव के रूप में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद व सांस्कृतिक उत्थान के संकल्प को दोहराया गया है। दिसंबर में होने वाले श्रीकाशी विश्वनाथ कारीडोर के उद्घाटन को भव्यता के साथ करने की रणनीति बनी है। उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। काशी, वाराणसी के दौरे से आसपास  भी असर पड़ेगा। पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह तथा पार्टी के अन्य बड़े नेताओं के आगामी कार्यक्रमों पर भी चर्चा की गई। दिसंबर में निकलने वाली पार्टी के विजय रथयात्रा की सफलता के लिए रणनीति पर मंथन किया गया। भारतीय जनता पार्टी बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को उतार चुकी है।

यह भी पढ़ेंः-विधानसभा चुनाव से पहले BJP के पिटारे में UP के लिए हैं और भी सौगातें, PM करेंगे शिलान्यास

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article