लखनऊ(Lucknow)। लखनऊ के महानगर(Mahanagar) इलाके से एक दिल दहला देनी वाली घटना सामने आई है। जहां एक पति ने अपनी ही पत्नी की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद पत्नी के शव को कमरे में बेड बॉक्स में बंद कर दिया। कमरे से बदबू आने पर जब बेड को खोला गया तब इस बात का खुलासा हुआ। वहीं पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

बेड बॉक्स में मिला शव

बता दें कि शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे बदबू आने पर जब परिजनों ने कमरा खंगाला तो अंजू देवी(Anju devi) (34) नाम की महिला का शव मिला। जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। वहीं शव फूल जाने से बेडबॉक्स में फंस गया था। पुलिस ने आरी से बेड बॉक्स के सपोर्टर को काटकर महिला के शव को बाहर निकाला। वहीं इस बीच मायकेवालों के आरोप पर पुलिस ने एक घंटे के अंदर आरोपी पति मोनू राजपूत(Monu rajpoot) को गिरफ्तार कर लिया। कड़ी पूछताछ में आरोपी पति ने अपना जुर्म कुबूला किया और बताया कि बुधवार सुबह पत्नी से झगड़ा होने के बाद उसने उसकी गला दबाकर हत्या की थी। फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

2 साल पहले की थी लव मैरिज

प्रभारी निरीक्षक महानगर प्रदीप कुमार सिंह(Pradeep kumar singh) के मुताबिक, रहीमनगर(Rahimnagar) निवासी मोनू राजपूत ने दो साल पहले सोनभद्र के शक्तिनगर निवासी अंजू से लव मैरिज की थी। मोनू पापड़ का कारोबार करता था। परिवार में बूढ़ी मां, विधवा भाभी और एक भतीजा है। अंजू अपने पति मोनू से 3 साल बड़ी थी।

शादी के एक साल बाद दोनों को एक बेटा हुआ। अंजू बच्चा नहीं चाहती थी। इसे लेकर दोनों के बीच काफी विवाद भी हुआ था। मोनू के परिवारीजनों के मुताबिक, आए दिन दोनों में झगड़ा होता था। इसके चलते कोई बीच-बचाव करने नहीं जाता था।

दोनों के बीच हुआ था विवाद

एडीसीपी उत्तरी प्राची सिंह के मुताबिक, पूछताछ में सामने आया कि मोनू और अंजू के बीच मंगलवार रात में ही विवाद हुआ। देर रात तक मारपीट भी हुई। बुधवार सुबह करीब 7 बजे अंजू नाश्ता बना रही थी। इस दौरान दोनों के बीच फिर झगड़ा हुआ। कुछ देर बाद मोनू घर के बाहर बैठी बूढ़ी मां और भाभी से बोला कि हमलोग अयोध्या जा रहे है। मां व भाभी को लगा कि अंजू भी जा रही है। मोनू का बेटा अपनी दादी के पास ही रहता था। शुक्रवार सुबह जब कमरे से बदबू आई तो अंजू की मौत की जानकारी हुई।

गला दबाकर की हत्या

पूछताछ में मोनू ने कुबूला कि बुधवार सुबह नाश्ता बनाते वक्त अंजू से विवाद हुआ। इसके बाद उसने एक थप्पड़ मारा दिया। इससे वह लड़खड़ाकर दीवार से टकराई और गिरकर बेहोश हो गई। उसे कई बार हिलाने के बाद भी जब वो कुछ नहीं बोली तो मोनू ने गुस्से में उसका गला दबा दिया। इसके बाद अंजू का शव बेड बॉक्स में डालकर बाहर निकल गया।

मिस्ड कॉल से हुआ था प्यार

प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक, अंजू के मायकेवालों को सूचना दे दी गई है। मोनू की मां ने पुलिस को बताया कि करीब तीन साल पहले अंजू की एक मिस्ड कॉल आई थी। इसके बाद दोनों के बीच दोस्ती हुई थी। फिर प्यार बढ़ा तो परिवारीजनों की मर्जी के खिलाफ जाकर दोनों ने शादी कर ली। इसके बाद मोनू की अंजू से मोबाइल पर दोस्तों से बात करने को लेकर अक्सर विवाद होने लगा।

इसे भी पढ़ें-पहले पति के सामने किया रेप, फिर वीडियो किया वायरल, पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here