munnwar rana

लखनऊ। प्रसिद्ध शायर मुनव्वर राणा के योगी आदित्यनाथ की वापसी पर उत्तर प्रदेश छोड़ने वाले बयान पर हंगामा शुुरू हो गया है। मुनव्वर के बयान पर भारतीय जनता पार्टी तीखा पलटवार किया है। भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि मुनव्वर राणा को दूसरा शहर, राज्य ढूंढ लेना चाहिए। क्योंकि 2022 में योगी आदित्यनाथ की ही सत्ता में वासपी होगी। उन्होंने कहा कि राणा सियासत में मजहबी रंग घोलने का काम कर रहे हैं। ज्ञात हो कि मुनव्वर राणा ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में अगर योगी आदित्यनाथ फिर से मुख्यमंत्री बने तो मैं राज्य छोड़ दूंगा और यह भी मान लूंगा की ये राज्य मुसलमानों के रहने लायक नही है। मुनव्वर राणा ने ओवैसी की पार्टी के उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने पर कहा कि भाजपा और एआईएमआईएम दोनों ऐसी पार्टियां हैं जो एक दूसरे के खिलाफ सिर्फ दिखाने के लिए चुनाव लड़ रही हैं। उन्होंने कहा कि दोनों सूबे में वोटों का मजहबी आधार पर ध्रुवीकरण करना चाहती हैं।

munnwar rana 1

जनसंख्या नीति को लेकर योगी पर कसा तंज
मुनव्वर राणा ने उत्तर प्रदेश की नई जनसंख्या नीति को लेकर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ अगर शादीशुदा होते तो वे जनसंख्या कानून लाने से पहले सोचते।

पुलिस की कार्रवाई पर भी उठाए सवाल
मुनव्वर राणा ने कहा कि मुस्लिम बच्चे एनकाउंटर में मारे जा रहे हैं। अलकायदा के नाम पर फर्जी मामले बनाए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में मुसलमान तो कायदे से जी नहीं पा रहा है तो अल कायदा क्या जीएगा। उन्होंने कहा कि मैं खुफिया एजेंसी पर भी सवाल उठाता हूं कि मासूमों को क्यों फंसाया जा रहा है। घर से कुकर उठाकर बम बोला जा रहा है।

ओवैसी को वोट नहीं देंगे मुस्लिम
मुसलमानों के मतदान के बारे में मुनव्वर राणा ने कहा ओवैसी की पार्टी के चुनाव लड़ने से सिर्फ भाजपा को फायदा होगा। उत्तर प्रदेश के मुस्लिमों में थोड़ी अक्ल होगी तो वे ओवैसी को वोट नहीं देंगे। उन्होंने कहा भाजपा सरकार का एक ही काम है कि किसी भी तरीके से मुसलमानों को परेशान करो। चाहें वो धर्मांतरण कानून और जनसंख्या नियंत्रण कानून का मामला हो या फिर आतंकवाद के नाम पर गिरफ्तारी हो।

यह भी पढ़ेंः-शराब की आड़ में योगी जी से गोश्त खाने की गुजारिश कर बैठे मुनव्वर राणा, अब हो रहे ट्रोल