योगी के सूबे में बर्दाश्त नहीं होगा लव जिहाद, CM ने अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश

194

उत्तर प्रदेश में अनवरत लव जिहाद के मामले सामने आ रहे हैं, जिसको मद्देनजर रखते हुए अभी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फुल फॉर्म में नजर आ रहे हैं। ऐसे मामलों पर ब्रेक लगाने के लिए अभी बैठकों का सिलसिला जारी है। इस कड़ी में योगी आदित्यनाथ ने गृह विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने अधिकारियों से  इस तरह के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए योजना तैयार करने के लिए कहा है। बता दें कि सीएम योगी ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है, जब लगातार इस तरह के मामले सूबों के विभिन्न जनपद से सामने आ रहे हैं। उधर, अधिकारियों ने कहा कि सीएम योगी ने यह कदम ऐसे में उठाया है , जब मेरठ, लखीमपुरी खिरी और कानुपर से ऐसे मामले सामने आए हैं। अभी हाल ही में लखीमपुरी खिरी में एक महिला का जबरदस्ती धर्म परिवर्तन कराकर उसका किसी मुस्लिम शख्स के साथ निकाह करा दिया गया। खैर, इस पूरे मामले पर अंकुश लग सके। इस दिशा में प्रदेश सरकार अनवरत प्रयासरत है।

वहीं, इस संदर्भ में अतरिक्त जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार मृत्युजंय कुमार ने कहा कि अनवरत लव जिहाद के प्रकरण सामने आ रहे हैं, जिसके दृष्टिगत सीएम ने उक्त कदम उठाएं हैं। इन्हीं मामलों के मद्देनजर गृह  विभाग के अधिकारियों से योजना बनाने को कहा गया है। साथ ही अब इस मामले में आरोपित पाए गए लोगों पर कठोर कार्रवाई करने के लिए भी कानून बनाए जाने की भी मांग की गई है।

राज्य के मुख्य सचिव अवनिश अवस्थी ने कहा कि लव जिहाद एक सामाजिक मुद्दा है, लिहाजा इस पर अंकुश लगाने के लिए हमें गंभीर कदम उठाने ही होंगे। आजकल सोशल मीडिया पर यह हर तरफ यह मौजूद है। इस पर अंकुश लगाने के लिए संजीदा कदम उठाने होंगे। अवस्थी ने कहा कि इन मामलों की सुनवाई फॉस्ट ट्रैक कोर्ट में जरूरी है, ताकि इन केसों की जल्द सुनवाई हो सके। मगर महामारी के दौर में ऐसे बहुत से मामले अभी कोर्ट मं लंबित पड़े हैं। ये भी पढ़े :पीएम मोदी के अफसर अब और भी ज्यादा पावरफुल होंगे…अजीत डोभाल ने की जबरदस्त तैयारी