लखनऊ /देहरादून । कोविड की तीसरी लहर की आशंका के बीच उत्तराखंड ने कांवड़ यात्रा रद कर दी है। उत्तर प्रदेश में 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा शुरू होगी। जांच के बाद ही कांवडियों को प्रवेश मिलेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया कि कांवड़ यात्रा के लिए दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव जांच रिपोर्ट अनिवार्य किया जाए। सीएम योगी ने अपील की है कि कांवड़ यात्रा में कम से कम लोग शामिल हों। उन्होंने कहा कि कोरोना के नये मामले कम हुए हैं लेकिन पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में सभी को सावधान रहना होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा और उत्तराखंड से संवाद कर यात्रा के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए जाएं।

CM yogi Adityanath

उत्तराखंड में कांवड़ यात्रा रद
उत्तराखंड में कांवड़ यात्रा रद कर दी गयी है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि लोगों की जीवन की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने सचिव गृह और पुलिस महानिदेशक को कांवड़ यात्रा के संबंध में पड़ोसी राज्यों से समन्वय स्थापित कर प्रभावी कार्रवाई करने को कहा। पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है। केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि स्थिति को देखते हुए सरकार ने इस साल कांवड़ यात्रा रद करने का फैसला लिया है।

कांवड़िये स्थानीय शिवालयों में करेंगे जलाभिषेक
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी का कहना है कि प्रदेश में कांवड यात्रा रोकी नहीं जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रयागराज से वाराणसी तथा अयोध्या से बस्ती भी कांवड यात्रा निकाली जाती है। प्रदेश में बहुत से शिवालय हैं जहां श्रद्धालु जलाभिषेक कर सकते हैं। श्रद्धालु आसपास के शिवालयों में जलाभिषेक कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने दिया कांवड़ संघों से बातचीत करने के निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए कम से कम लोग कांवड़ यात्रा में शामिल हों। उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा के लिए अन्य राज्यों से प्रदेश में आने वालों के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस मामले को लेकर कांवड़ संघों से संवाद किया जाए। 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा शुरू होनी है।

यह भी पढ़ेंः-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की घोषणा, अब नहीं कटेगी बिजली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here