Wednesday, December 8, 2021

अखिलेश नहीं तो कोई और सही, राष्ट्रीय पार्टी से गठबंधन करने की तैयारी में शिवपाल

Must read

- Advertisement -

मेरठ। चाचा-भतीजे का चुनावी समीकरण अभी भी अधर में है। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने शुक्रवार को मेरठ में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए प्रसपा लोहिया गठबंधन जरूर करेगी। उन्हांेने कहा कि अगर समाजवादी पार्टी से उनका गठबंधन नहीं होता है तो किसी राष्ट्रीय पार्टी से उनका गठबंधन होगा। शिववाल सिंह यादव ने गठबंधन वाली राष्ट्रीय पार्टी कौन सी होगी, इसका उन्होंने खुलासा नहीं किया। यह पूछे जाने पर कि क्या वे राष्ट्रीय पार्टी बीजेपी से भी गठबंधन कर सकते हैं? उन्होंने कहा कि शुरू से लेकर अब तक वे किसके खिलाफ बोल रहे हैं? हालांकि शिवपाल यादव ने साफ-साफ यह भी नहीं कहा कि बीजेपी से गठबंधन का सवाल ही नहीं है। शिवपाल ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी जिस गठबंधन में होगी, यूपी में अगले साल उसी की सरकार बनेगी। उन्होंने एक बार फिर कहा कि सत्ता की चाबी हमारे पास होगी।

अखिलेश से गठबंधन में मैंने सिर्फ सम्मान मांगा है

- Advertisement -

शिवपाल ने कहा कि समान विचारधारा वाली पार्टियां भारतीय जनता पार्टी को हटाने के लिए एक हो जायें। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के मुखिया से गठबंधन को लेकर अभी सिर्फ टेलीफोन पर ही बात हुई है। शिवपाल ने कहा कि मैंने समाजवादी पार्टी को बुलंदियों तक पहुंचाया है। मेरे प्रयासों की वजह से नेताजी 2 बार प्रधानमंत्री की स्थिति में पहुंच गए थे लेकिन बनते-बनते रह गये। महाभारतकालीन धरती पर पहुंचे शिवपाल ने कहा कि अखिलेश से गठबंधन में मैंने सिर्फ सम्मान मांगा है जो जीतने वाले प्रत्याशी हैं उनका सम्मान किया जाये। शिवपाल ने कहा कि जीतने वाले प्रत्याशी का सम्मान रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि रालोद के मुखिया जयंत चैधरी भी गठबंधन में शामिल हों। उन्हांेने एक तरह से सभी राजनीतिक दलों को एकत्र होने की सलाह दी।

…तो फिर उन्हें मेरी जरूरत नहीं है

अखिलेश के उत्तर प्रदेश में 400 सीटें जीतने वाले बयान पर प्रसपा के मुखिया शिवपाल ने कहा कि यह बात गले नहीं उतरती है। उन्होंने कहा कि अगर अखिलेश 400 सीट जीतेंगे तो फिर उन्हें मेरी जरूरत नहीं है। सपा से गठबंधन के सवाल पर शिवपाल ने कहा कि नेता जी से भी इस संबंध में उनकी बात हुई है। नेताजी ने कहा है कि वे अखिलेश को समझाएंगे। शिवपाल ने कहा कि नेताजी ने उनसे कहा है कि अगर अखिलेश नहीं समझते हैं तो वे प्रसपा का प्रचार करेंगे।

अखिलेश को मेरा सम्मान तो करना ही होगा : शिवपाल

बार-बार सपा से गठबंधन की बात करते हुए शिवपाल ने कहा कि मेरा सम्मान रखते हुए अखिलेश गठबंधन करें। उन्होंने कहा कि चाचा-भतीजे का रिश्ता अखिलेश के बचपन से है और चाचा होने के नाते अखिलेश को मेरा सम्मान तो करना ही होगा। बार-बार गठबंधन की बात करते हुए शिवपाल ने कहा कि एलायंस कर अखिलेश भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से हटायें।

यह भी पढ़ेंः-विधानसभा चुनाव : ओवैसी-शिवपाल को अखिलेश-राजभर ने ऐसे दिया झटका, अब बदल जाएंगी पूर्वांचल की तस्वीर

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article