Home उत्तर प्रदेश वाहन मालिकों के लिए सरकार ने किया नोटिफिकेशन जारी, करें पालन नहीं...

वाहन मालिकों के लिए सरकार ने किया नोटिफिकेशन जारी, करें पालन नहीं तो गाड़ी होगी सील!

0
1145
traffic

देश में कोरोना महामारी का दौर अपने चरम पर है, जिसके चलते संपूर्ण भारत में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है. हालांकि ऐसी महामारी में लागू हुआ लॉकडाउन अपने अंतिम पड़ाव है. दरअसल लॉकडाउन की समय सीमा कल यानि की 30 जून को समाप्त हो रही है. जिसको देखते हुए केंद्र सरकार एक बार फिर लॉकडाउन लगाने की तैयारी में जुटी हुई है. चूंकि देश में कोरोना संक्रमण के मरीजों का इजाफा सरकार के लिए एक बड़ी परेशानी बना हुआ है. अब ऐसे में सवाल यह है कि क्या कोरोना महामारी कभी खत्म हो पाएगी?, चूंकि इसके बाद ही हमें फिर से घूमने-फिरने की आजादी मिल सकेगी. लेकिन घूमने के लिए भी तो वाहन की जरूरत पड़ेगी?, जिसे आप सड़क पर ले जाएंगे. हालांकि वाहन मालिकों के लिए गाजियाबाद जिला संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन ने बड़ी जानकारी साझा की है. जो आपके लिए जानना बेहद जरूरी है अन्यथा आपको भारी-भरकम फाइन भी देना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें:-कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र सरकार का बड़ा फैसला, राज्य में फिर से लागू हुआ लॉकडाउन

दरअसल गाजियाबाद जिला संभागीय परिवहन अधिकारी विशवजीत प्रताप सिंह ने नोटिफिकेशन जारी करते हुए वाहन चालकों को सख्त हिदायत दी है. अधिकारी के मुताबिक जिन लोगों की गाड़ी का रजिस्ट्रेशन 15 साल की तिथि से भी पूर्ण हैं और उसे अभी तक रिन्यू नहीं कराया है तो जल्द करवा लें अन्यथा सरकार की गाइडलाइंस में इसे अवैध करार दिया जाएगा.

ghaziabad-transport

बता दें कि सोमवार को विभाग ने चेकिंग के दौरान 60 वाहन मालिकों पर शिकंजा कसा है. जिनकी गाड़ी की रजिस्ट्रेशन डेट समयसीमा से ऊपर थी, हालांकि वाहन मालिकों को 30 दिनों की मोहलत दी गई है, जिसमें वो अपने वाहन के रजिस्ट्रेशन को रिन्यू करवा सकते हैं.

trafic

विभाग ने कहा है कि यदि वाहन की अस्तित्व समाप्त हो चुका है या स्थायी रूप से उपयोग के अयोग्य हो गया है, तो आवेदन देकर उसे नियमानुसार निरस्तीकरण करा लें. अधिकारी ने बताया कि ऐसे केस में अगर निलंबन बिना किसी अवरोध के न्यूनतम 6 माह तक बना रहता है तो फिर उसका रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जाएगा.

traffic

ऐसा ना करने पर विभाग ने मोटर वाहन अधिनियम की धारा-5 की उप-धारा (1) के अन्तर्गत कार्रवाई करने की बात कही है. वहीं पूरे देश में लागू होने जा रहे नए लॉकडाउन के मद्देनजर भी चेकिंग बढ़ाई जाएगी.

ये भी पढ़ें:-WHO: कोरोना वैक्सीन का खत्म हुआ इंतजार, ये कंपनी सफलता से महज दो कदम है दूर!